जश्न-ए-आजादी: देश मना रहा है 72वां स्वतंत्रता दिवस... प्रधानमंत्री मोदी के भाषण के अहम बिंदु

जश्न-ए-आजादी: देश मना रहा है 72वां स्वतंत्रता दिवस… प्रधानमंत्री मोदी के भाषण के अहम बिंदु

प्रधानमंत्री ने कहा, ”आज गांव-गांव तक डिजिटल इंडिया को लेकर आगे बढ़ रहे हैं. कहीं पर भी आपदा हो, हमारे देश की सेना वहां पहुंच जाती हैं। वही सेना जब संकल्प लेकर चल पड़ती है तो सर्जिकल स्ट्राइक कर दुश्मनों के दांत खट्टे कर भी आ जाती है।”

प्रधानमंत्री ने कहा, ” हम ऐसे समय में आजादी का जश्न मना रहे हैं जब हमारी बेटियों ने देश का गौरव बढ़ाया है। हम उस समय में आजादी का जश्न मना रहे हैं जब नेवी की 6 महिला अफसरों ने हाल ही में विश्व दौरा पूरा किया है। नन्हें-मुन्हें आदिवासी बच्चों ने एवरेस्ट फतेह करके इस देश का मान बढ़ाया है जिससे आजादी का पर्व और भी खास हुआ है।”

प्रधानमंत्री ने कहा, ”आप सभी को स्वतंत्रता के इस महान पर्व पर मेरी बहुत-बहुत शुभकामनाएं। देश इस समय नवनिर्माण के आत्मविश्वास से सराबोर है। जब आज की सुबह हर्ष-उल्लास, श्रद्धा और संकल्प की नई रोशनी लेकर आई है।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले की प्राचीर से अपनी सरकार की महत्वकांक्षी योजना आयुष्मान भारत को 25 सितंबर से लागू करने का ऐलान किया। इस योजना के तहत 10 करोड़ गरीब परिवारों को अस्पताल में भर्ती के लिए हर साल पांच लाख रुपये का बीमा मुहैया कराया जाएगा।

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री मोदी ने आज लाल किले से इसका ऐलान करते हुए कहा, जन जन को आरोग्य की सुविधा मुफ्त में मिले, इसके लिये ‘प्रधानमंत्री जन आरोग्य अभियान’ के तहत 10 करोड़ परिवारों को पांच लाख रुपये का बीमा कवर देने का फैसला किया गया है।आगामी 25 सितंबर को पंडित दीन दयाल उपाध्याय जयंती पर पूरे देश में इसे लागू करेंगे।

क्या है आयुष्मान योजना : इस योजना का लाभ सीधे तौर पर आम जनता को दिया जाएगा, जिसमें 50 करोड़ लोगों को बीमा कवर दिए जाने का प्रस्ताव है। यह योजना खासतौर पर गरीब और ग्रामीण इलाकों में रहने वाले लोगों को बेहतर स्वास्थ सेवाएं देने की मंशा से लाई जा रही है।

  • इस योजना की खास बात ये है कि इसमें परिवार के सदस्यों को लेकर कोई सीमा तय नहीं की गई है। इस योजना के अंतर्गत आम जनता को केवल आर्थिक स्थिति के आधार पर ही लाभ दिया जाएगा।
  • इस योजना के तहत मरीज और लाभार्थी को उसकी सुविधानुसार सरकारी और निजी अस्पताल में इलाज की सुविधा मुहैया की जाएगी।
  • आयुष्मान योजना के तहत किसी भी व्यक्ति के लिए कोई उम्र सीमा भी तय नहीं की गई है साथ ही बिना आधार कार्ड के भी मरीज को इस योजना का लाभ मिलेगा।
  • ये योजना पीएम मोदी के कैशलैस इंडिया की मुहीम के तहत इस योजना को पूरी तरह कैशैलस रखा गया है और इस योजना के जो प्रीमियम राज्य और केंद्र सरकार भरेंगी। इसमें सीमा तय की गई है जिसमें 40 प्रतिशत राज्य व  60 प्रतिशत केंद्र सरकार भरेगी।
  • इतना ही नहीं इस योजना के तहत हॉस्पिटलाइजेशन के लिए ट्रांस्पोर्ट अलाउंस भी लाभार्थी को मिलेगा। इस योजना को सही प्रकार से लागू करने के लिए देशभर में करीब डेढ़ लाख स्वास्थ्य केंद्र भी बनाए जाएंगे।

Pages: 1 2

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *