प्रधानमंत्री ने ली राज्य में भारी वर्षा से हुए नुकसान की जानकारी, सीएम ने पीएम को करवाया अवगत प्रदेश को करीब 1250 करोड़ रुपये का नुकसान

केंद्र ने दी प्रदेश के लिए राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल को स्वीकृति

शिमला: प्रदेश की भौगोलिक एवं आपदा संवेदनशीलता को ध्यान में रखते हुए प्रदेश में राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल की एक बटालियन स्थापित करने के लिए मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के प्रयास के फलस्वरूप आज केंद्रिय मंत्रिमण्डल ने प्रदेश के लिए एक राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल स्वीकृत किया है।

प्रदेश मंत्रिमण्डल ने इस निर्णय का स्वागत करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार व्यक्त किया है। इस निर्णय से राज्य में आपदा प्रबन्धन को मजबूत करने कि लिए बल मिलेगा तथा आपदा की स्थिति में राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल कम समय में आपदा ग्रस्त क्षेत्र में तैनात की जा सकेगी। इसके अतिरिक्त राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल की स्थापना से स्थानीय लोगों को परोक्ष रूप से रोज़गार के अवसर भी सृजित होंगे।

उल्लेखनीय है कि हिमाचल सरकार कई वर्षों से भारत सरकार के साथ राज्य में राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल की स्थापना के लिए प्रयासरत थी। जुलाई 2016 में भारत सरकार ने राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल, जाचपुर (नूरपुर) में जो राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल भटिंडा की एक टुकडी है, को  स्थापित किया था। लेकिन प्रदेश की भौगोलिक एवं आपदा संवेदनशीलता को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार ने प्रदेश में राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल की एक बटालियन स्थापित करने को मंजूरी प्रदान की है।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *