स्वास्थ्य मंत्री ने किया केएनएच का निरीक्षण, नए भवन के लिए ट्रांसफार्मर और लिफ्ट शीघ्र स्थापित करने के निर्देश

शिमला: स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण और आयुर्वेद मंत्री विपिन सिंह परमार ने आज प्रातः शिमला के कमला नेहरू अस्पताल का औचक निरीक्षण किया। वह अस्पताल के सभी वार्डों में गए और बारिकी से वार्डों के क्रियाकलापों व व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस दौरान अस्पताल के कुछ वार्डों सहित शौचालयों इत्यादि में कर्मचारी आनन-फानन में सफाई करवाते नज़र आए, जिसपर उन्होंने नाराज़गी जाहिर की और सफाई का जिम्मा संभाल रहे कर्मचारियों को भविष्य में इस प्रकार की अव्यवस्था पर उनके विरूद्ध कड़ी कारवाई की बात कही। हालांकि, उन्हें अवगत करवाया गया कि अस्पताल में तीन शिफ्टों में प्रातः आठ बजे, दोपहर दो बजे तथा सायं आठ बजे प्रत्येक वार्ड की सफाई की जाती है। मंत्री ने कहा कि स्वास्थ्य की दृष्टि से स्वच्छता बहुत महत्वपूर्ण है और राज्य सरकार ने अस्पतालों में सफाई की समुचित व्यवस्था उपलब्ध करवाई है, ऐसे में किसी भी प्रकार की कोताही को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

स्वास्थ्य मंत्री ने अस्पताल के सभी शौचालयों का भी निरीक्षण किया। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को शौचालयों की उपयुक्त मुरम्मत व रखरखाव की नियमित निगरानी रखने को कहा। उन्होंने अस्पताल में रेडियोलॉजी मशीन को हर समय क्रियाशील रखने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि अस्पताल में आवश्यक उपकरण व मशीनरी उपलब्ध करवाई गई है, लेकिन इनके संचालन की जिम्मेवारी कर्मचारियों की है, जिन्हें ईमानदारी के साथ कार्य करके बीमार लोगों की समर्पण भाव से सेवा करनी चाहिए। उन्होंने अस्पताल के आई.सी.यू., सभी ओ.पी.डी.ए जनरल तथा विशेष वार्डों, परामर्श केन्द्र, प्रसूति वार्डों का गहन निरीक्षण किया तथा पाई गई छुट-पुट कमियों को शीघ्र पूरा करने के लिये संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए।

इस दौरान स्वास्थ्य मंत्री ने उपचाराधीन अनेक महिलाओं से बात-चीत कर उपचार सुविधा की जानकारी प्राप्त की। कुल्लू अस्पताल से रेफर की गई गर्भवती महिला बेगम पत्नी गुलज़ार ने मंत्री को बताया कि उनकी प्रसूतावधि पूरी हो चुकी है, लेकिन खून की कमी अथवा अन्य कारणों से अभी तक प्रसूति नहीं हो पाई है। मंत्री ने मामले को गंभीरतापूर्वक लेते हुए इस संबंध में मुख्य चिकित्सा अधिकारी कुल्लू से रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कहा। हालांकि चिकित्सकों के अनुसार महिला की स्थिति शीघ्र सामान्य होने की उम्मीद है। इसके उपरांत विपिन सिंह परमार ने केएनएच के 100 बिस्तरों के निर्माणाधीन अतिरिक्त भवन का भी निरीक्षण किया। इस संबंध में मंत्री को अवगत करवाया गया कि 11.66 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित भवन का निर्माण कार्य लगभग पूरा हो चुका है, लेकिन इसमें बिजली की उपयुक्त व्यवस्था के लिये नया टांसफार्मर स्थापित किया जाएगा, जिसके लिये चिन्हित स्थल को लेकर विद्युत विभाग को आपत्ति है। हालांकि इसके लिये बिजली बोर्ड को धनराशि भी उपलब्ध करवा दी गई है। इसी प्रकार, नये भवन की धरातल मंजिल से लिफ्ट की सुविधा नहीं है। भवन के एटीक में वार्ड की सुविधा प्रदान करने के लिये भी मंत्री से अस्पताल प्रशासन ने आग्रह किया। इसपर स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि शीघ्र प्रस्ताव तैयार कर इस कार्य को पूरा करवाया जाएगा। इस संबंध में स्वास्थ्य मंत्री ने इस अवसर पर उनके साथ मौजूद विशेष सचिव स्वास्थ्य निपुण को स्वास्थ्य, विद्युत व लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों की शीघ्र एक बैठक बुलाकर इन सभी मुद्दों को शीघ्र हल करवाने को कहा ताकि अस्पताल का लोकार्पण कर इसका लाभ जनता को सुनिश्चित बनाया जा सके। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि नये भवन में आवश्यक अधोसंरचना उपलब्ध करवाने तथा भवन के लोकार्पण की अन्य औपचारिकताओं को पूरा करने के लिये वह शीघ्र ही केएनएच में बैठक करेंगे।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

59  +    =  66