नौणी विवि में बीएससी सेल्फ फ़ाइनेंसड सीटों के लिए एड्मिशन काउंसलिंग

नौणी विवि में बीएससी सेल्फ फ़ाइनेंसड सीटों के लिए एड्मिशन काउंसलिंग

 नौणी: डॉ. वाईएस परमार औदयानिकी एवं वानिकी विश्वविद्यालय, नौणी में बुधवार को स्नातक कार्यक्रमों की स्व-पोषित (self-financed seats) सीटों की पहली काउंसलिंग आयोजित की गई। यह काउंसलिंग विश्वविद्यालय द्वारा चलाये जा रहे बीएससी (ऑनर्स) औदयानिकी, बीएससी (ऑनर्स) वानिकी और बी टेक बायोटेक्नोलॉजी कार्यक्रमों में दाख़िले के लिए आयोजित की गई थी। वर्तमान में विश्वविद्यालय के तीन कॉलेज है- नौणी में औद्यानिकी कॉलेज और वानिकी कॉलेज तथा हमीरपुर के नेरी में औद्यानिकी और वानिकी कॉलेज।

स्व-पोषित सीटों के लिए विश्वविद्यालय की अलग प्रवेश प्रक्रिया है जिसमें देश भर के छात्र आवेदन कर सकते हैं। इन सीटों के लिए 12वीं कक्षा के अंकों के आधार पर मेरिट लिस्ट बनाई जाती है। इस साल 1309 छात्रों ने इन सीटों के लिए आवेदन किया था। इसके अलावा इस साल जनरल सीटों के लिए हिमाचल के 5600 से अधिक छात्रों ने आवेदन किया था। जनरल सीटों के लिए प्रवेश परीक्षा आयोजित की गई थी और 4 जुलाई को पहली काउंसलिंग आयोजित की गई।

स्व-पोषित सीटों के लिए पहली काउंसलिंग के लिए 485 छात्रों, जिनके 12वीं कक्षा में 78 प्रतिशत से ज्यादा अंक आए थे, को बुलाया गया था। विश्वविद्यालय के स्नातक कार्यक्रमों में प्रवेश लेने के लिए छात्रों की रुचि का अंदाज़ा इस बात से लगाया जा सकता है कि काउंसलिंग में बहुत से छात्रों के बारवीं कक्षा में 90 प्रतिशत से ज्यादा अंक आए हैं। कक्षा 12वीं में 96.5 प्रतिशत लाने वाली आरुषि, इस काउन्सेलिंग में भाग लेने वाली सबसे ज्यादा अंकों वाली छात्रा रही।

काउन्सेलिंग समिति ने आज सभी छात्रों के दस्तावेज देखे और उनकी पसंद के कार्यक्रम और कॉलेज जाना। आज उपस्थित छात्रों की मेरिट के आधार पर सीट और कॉलेज की सूची 13 जुलाई की शाम को विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर उपलब्ध होगी। विश्वविद्यालय के एमएससी कार्यक्रमों के लिए पहली काउंसलिंग 17 जुलाई, 2018 को विश्वविद्यालय में आयोजित की जाएगी।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *