हिमाचल: निःशुल्क हवाई एम्बुलेंस सेवाओं के लिए एमओयू साइन

हिमाचल: निःशुल्क हवाई एम्बुलेंस सेवाओं के लिए एमओयू साइन

शिमला: प्रदेश सरकार सभी स्वास्थ्य उप-केन्द्रों को स्वास्थ्य एवं वैलनेस केन्द्रों में परिवर्तित कर स्वास्थ्य कार्यक्रम ‘आयुष्मान भारत’ को कार्यान्वित करेगी। इसके अन्तर्गत निर्धन लोगों को पांच लाख रुपये का स्वास्थ्य सुरक्षा छत्र प्रदान किया जाएगा। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर आज यहां निःशुल्क हवाई एम्बुलेंस सेवा को आरम्भ करने के लिए राज्य सरकार, हैलीमिशन फाउडेशन स्विट्जरलैंड तथा लेडी विलिंटन अस्पताल मनाली के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर के अवसर पर बोल रहे थे।

मुख्यमंत्री ने स्विट्जरलैंड हैलीमिशन फांउडेशन का प्रदेश में लेडी विलिंटन अस्पताल मनाली के साथ निःशुल्क हवाई एम्बुलेंस सेवा आरम्भ करने के प्रस्ताव के लिए आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि इस हवाई एम्बुलेंस सेवा से पूरे प्रदेश के मरीजों को नजदीक के स्वास्थ्य संस्थान के लिए लिफ्ट किया जा सकेगा और यह 108 एम्बुलेंस सेवा के निकट समन्वय के साथ क्रियाशील होगी।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार सभी आवश्यक अधोसंरचना उपलब्ध करवाएगी जिनमें मानव संसाधनों के लिये आवासीय स्थान, लैण्डिंग व हैलिकॉप्टर का रख-रखाव इत्यादि शामिल हैं।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार राज्य के लोगों को उनके घरद्वार के समीप बेहतर स्वास्थ्य उपचार सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए वचनबद्ध है। उन्होंने कहा कि वर्तमान वित्त वर्ष के दौरान स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए 2302 करोड़ रुपये का बजट आवंटन किया गया है, जो गत वर्ष के बजट से 582 करोड़ रुपये अधिक है। हैलीमिशन फांउडेशन स्विट्जरलैंड के अन्तर्राष्ट्रीय निदेशक सीमन टैनर ने कहा कि फांउडेशन इस क्षेत्र में गत 47 वर्षों से कार्य कर रही है।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *