5600 से अधिक छात्र नौणी विश्वविद्यालय के स्नातक प्रवेश परीक्षा में लेगें भाग

5600 से अधिक छात्र नौणी विश्वविद्यालय के स्नातक प्रवेश परीक्षा में लेगें भाग

  • 16 जून को होगी परीक्षा

नौणी : हिमाचल के 5600 से अधिक छात्र इस वर्ष डॉ॰ वाई एस परमार औदयानिकी एवं वानिकी विश्वविद्यालय नौणी के तीन स्नातक कार्यक्रमों के लिए प्रवेश परीक्षा देगें। बीएससी (ऑनर्स) औदयानिकी, बीएससी (ऑनर्स) वानिकी और बीटेक जैव प्रौद्योगिकी कार्यक्रमों में प्रवेश के लिए परीक्षा 16 जून को हिमाचल के चार शहरों में 11:00 बजे आयोजित की जाएगी। विश्वविद्यालय के तीन कॉलेजों में इन तीन कार्यक्रमों में 150 सीटें हैं जिसमें विभिन्न श्रेणियों के लिए 58 आरक्षित सीटों भी शामिल हैं। स्व-वित्त पोषित (self financed) मोड के तहत इन कार्यक्रमों में प्रवेश प्रक्रिया 30 जून तक खुली है। लेट फीस के साथ 7 जुलाई तक विश्वविद्यालय के वैबसाइट पर जाकर आवेदन किया जा सकता है।

टेस्ट सेंटर : सोलन में डिग्री कॉलेज और यूनिवर्सिटी परिसर में वानिकी महाविद्यालय और औद्यानिकी महाविद्यालय में परीक्षा केंद्र स्थापित किए गए हैं। पालमपुर में केएलबी डीएवी कॉलेज (गर्ल्स) में परीक्षा होगी। सुंदरनगर में पॉलीटेक्निक कॉलेज, जवाहर लाल नेहरू सरकारी इंजीनियरिंग कॉलेज और सरकारी वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय (बॉय्ज़) में परीक्षा केंद्र होंगे। सरकारी डिग्री कॉलेज हमीरपुर और नौणी विवि के नेरी स्थित औद्यानिकी एवं वानिकी महाविद्यालय में परीक्षा केंद्र होगा।

विश्वविद्यालय के कुलसचिव राजेश कुमार ने बताया कि नौणी और नेरी में विश्वविद्यालय के विभिन्न स्नातक कार्यक्रमों के लिए आवेदन करने के लिए ऑनलाइन प्रणाली का इस्तेमाल किया गया था। ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया पूरी करने के बाद आवेदक का एड्मिट कार्ड डाउनलोड हो जाता था। उन्होनें बताया कि जिन छात्रों ने अभी तक एड्मिट कार्ड डाउनलोड नहीं किए हैं, वह अपने ई मेल पर जाकर भी ऐसा कर सकते हैं, क्योंकि इसकी प्रतिलिपि उस पर मेल की गई है।

विश्वविद्यालय ने छात्रों के लिए एक हेल्पलाइन नंबर 01792 252009 भी स्थापित किया है जहां छात्र परीक्षा से संबन्धित प्रश्न पूछ सकते हैं। यह टेलीफ़ोन सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक और परीक्षा के दिन सुबह 8:00 बजे से उपलब्ध होगा। विश्वविद्यालय द्वारा छात्रों को 10:15 बजे से पहले परीक्षा केंद्र पहुंचने की भी सलाह दी गई है।

  • रक्षा कर्मियों के बच्चों के लिए बढ़ी सीटें

इस शैक्षणिक सत्र से विश्वविद्यालय ने सेवा दे रहे और सेवानिवृत्त रक्षा और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस कर्मियों के बच्चों के लिए आरक्षित सीटों को दोगुना कर दिया है। सभी विषयों में ऐसे छात्रों के लिए आरक्षित सीटों की कुल संख्या अब 14 हो गई है। इसके अलावा,पिछले शैक्षणिक सत्र से विश्वविद्यालय ने हिमाचल के ग्रामीण इलाकों में स्थित सरकारी स्कूलों के छात्रों के लिए अपने स्नातक कार्यक्रमों में 50 प्रतिशत सीटें आरक्षित की थी। हिमाचल के ग्रामीण इलाकों में स्थित किसी भी सरकारी स्कूल से 8वीं,10वीं या 12वीं की परीक्षाओं में से कोई दो परीक्षाओं को पास करने वाले छात्र इस श्रेणी के तहत आने वाली सीटों के लिए पात्र है।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *