अन्तर्राष्ट्रीय शिमला ग्रीष्मोत्सव का आगाज 1 जून से

  • अन्तर्राष्ट्रीय शिमला ग्रीष्मोत्सव का आगाज 1 जून से
  • अन्तर्राष्ट्रीय शिमला ग्रीष्मोत्सव के आयोजन की समीक्षा बैठक
  • 5 दिन तक चलने वाले उत्सव के दौरान रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम किए जाएगें प्रस्तुत
  • उत्सव के दौरान स्थानीय कलाकारों को अपनी कला को प्रस्तुत करने का बेहतरीन अवसर
  • नवोदित कलाकारों को भी विभिन्न कलाओं को जानने और समझने के अवसर होंगे प्राप्त
  • ग्रीष्मोत्सव के दौरान ‘हिमाचली फूड फैस्टिवल’ भी किया जाएगा आयोजित
  • मैराथन का भी किया जाएगा आयोजन
  • ग्रीष्मोत्सव के दौरान आकर्षक ‘बेबी शो’ और शिमला आर्ट फैस्टिवल का भी किया जाएगा आयोजन
  • ‘डॉग शो’ भी सभी के आकर्षण का रहेगा केन्द्र

शिमला: इस वर्ष 1 जून से 5 जून, 2015 तक अन्तर्राष्ट्रीय शिमला ग्रीष्मोत्सव के दौरान गीत-संगीत की मधुर स्वर लहरियों के साथ-साथ, बहुआयामी गतिविधियों का आयोजन भी सभी के आकर्षण का मुख्य केन्द्र रहेगा। यह बात आज उपायुक्त शिमला दिनेश मल्होत्रा ने ग्रीष्मोत्सव के आयोजन के लिए समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते कही।
दिनेश मल्होत्रा ने कहा कि 5 दिन तक चलने वाले इस उत्सव के दौरान रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए जाएगें । उन्होंने कहा कि यह उत्सव न केवल स्थानीय लोगों, बल्कि यहां भ्रमण पर आए पर्यटकों के लिए भी आकर्षण का मुख्य केन्द्र रहेगा। उत्सव के दौरान स्थानीय कलाकारों को अपनी कला को प्रस्तुत करने का बेहतरीन अवसर प्राप्त होगा, साथ ही नवोदित कलाकारों को भी विभिन्न कलाओं को जानने और समझने के अवसर प्राप्त होंगे ।

उपायुक्त ने बताया कि ग्रीष्मोत्सव के दौरान ‘हिमाचली फूड फैस्टिवल’ भी आयोजित किया जाएगा, जिसमें हिमाचल के पारम्परिक व्यंजन परोसे जाएगें । फूड फैस्टिवल में स्थानीय लोगों के अलावा यहां भ्रमण पर आए पर्यटकों को भी हिमाचली व्यंजनों का लुत्फ लेने का अवसर प्राप्त होगा । ग्रीष्मोत्सव के दौरान मैराथन का भी आयोजन किया जाएगा । यह मैराथन विभिन्न वर्गों में आयोजित की जाएगी, जिसमें स्थानीय लोगों के साथ-साथ राष्ट्रीय स्तर के धावक भी हिस्सा लेगें ।

दिनेश मल्होत्रा ने कहा कि ग्रीष्मोत्सव के दौरान आकर्षक ‘बेबी शो’ का आयोजन भी किया जाएगा।  इस कार्यक्रम का आयोजन मुख्य चिकित्सा अधिकारी, शिमला के माध्यम से किया जाएगा । उन्होंने कहा कि अन्तर्राष्ट्रीय शिमला ग्रीष्मोत्सव से पूर्व 28 मई से 30 मई, 2015 तक शिमला आर्ट फैस्टिवल का भी आयोजन किया जाएगा, जिसमें कई प्रतिष्ठित कलाकार हिस्सा लेगें ।

उपायुक्त ने बताया कि ग्रीष्मोत्सव के दौरान हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी ‘फ्लावर शो’ आयोजित किया जाएगा । इस शो में गैर सरकारी संस्थाएं, सरकारी विभागों के अलावा आम नागरिक भी हिस्सा ले सकते हैं ।
दिनेश मल्होत्रा ने कहा कि ग्रीष्मोत्सव के दौरान ‘डॉग शो’ भी सभी के आकर्षण का केन्द्र रहेगा ।यह पुलिस विभाग द्वारा आयोजित किया जाएगा । इस शो में विभिन्न नसलों के स्वॉन हिस्सा लेगें और अपनी दक्षता का प्रदर्शन भी करेंगे।  बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त शिमला, यूनुस, सहायक, पुलिस अधीक्षक अंजुम आरा, ए.डी.एम.(कानून एवं व्यवस्था), डी.के. रतन, ए.डी.एम. (प्रोटोकॉल), जी.सी.नेगी, एस.डी.एम. शिमला (ग्रामीण), ज्ञान सागर नेगी, सहायक, उपायुक्त, सचिन कंवल, पी.ओ.,डी.आर.डी.ए. भावना शर्मा, डी.आर.ओ. प्रवीण कुमार टॉक और वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *