शिमला : आईजीएमसी

कल से आईजीएमसी में 24 घण्टे उपलब्ध होंगी जेनेरिक दवाईयां : स्वास्थ्य मंत्री

  • अभी तक करीब 3 लाख मरीजों को दी निःशुल्क जेनेरिक दवाईयां

शिमला:  इन्दिरा गांधी आयुर्विज्ञान चिकित्सा संस्थान शिमला में नवम्बर 2015 से कार्यरत निःशुल्क जेनेरिक औषधी केन्द्र द्वारा अभी तक विभिन्न बीमारियों के लिए लगभग 3 लाख मरीजों को निःशुल्क दवाईयां उपलब्ध करवाई हैं। यह जानकारी आज स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री विपिन सिंह परमार ने दी।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि मरीजों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार ने निर्णय लिया है कि निःशुल्क जेनेरिक औषधी केन्द्र 22 फरवरी से प्रति दिन 24 घण्टे खुला रहेगा। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश द्वारा अधिसूचित सभी दवाईयां मरीजों को निःशुल्क प्रदान की जाएंगी और ये दवाईयां इण्डोर तथा आउटडोर सभी मरीजों को उपलब्ध करवाई जाएंगी।

विपिन परमार ने कहा कि राज्य के लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा देने के लिए स्वास्थ्य क्षेत्र में नए सुधार किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार सभी स्वास्थ्य संस्थानों में ढांचागत विकास व चिकित्सकों तथा पैरामेडिकल स्टॉफ को देखना चाहती है और इस दिशा में प्रयास शुरू कर दिए हैं।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *