क्षेत्रीय हवाई कनेक्टिविटी योजना ‘उडान’ : अब प्रदेश में होगी हैलीकॉप्टर सेवाएं सस्ती दरों पर शुरू, इन स्थानों के लिये....

क्षेत्रीय हवाई कनेक्टिविटी योजना ‘उडान’: अब प्रदेश में होगी हैलीकॉप्टर सेवाएं शुरू, इन स्थानों के लिये….

  • योजना के अन्तर्गत लोगों को विभिन्न गन्तव्यों के लिये सस्ती दरों पर प्रदान की जाएंगी हैलीकॉप्टर सेवाएं
  • ये सेवाऐं कसौली से शिमला, मनाली से कुल्लू, मण्डी से धर्मशाला, कुल्लू और शिमला, नाथपा-झाकड़ी से रामपुर के लिए, रामपुर से नाथपा-झाकड़ी तथा शिमला और शिमला से कसौली, मण्डी और रामपुर के लिए प्रदान की जाएंगी
  • मुख्यमंत्री ने की कर्मचारियों और पेंशनरों के लिये 8 प्रतिशत अन्तरिम राहत की घोषणा
  • राज्य को ‘उडान’ योजना में शामिल करने के लिये व्यक्त किया प्रधानमंत्री का आभार

शिमला: कुल्लू जिला के आनी में 48वें राज्य स्तरीय पूर्ण राज्यत्व दिवस समारोह की अध्यक्षता करते हुए मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज राज्य सरकार के कर्मचारियों और पैंशनरों को एक जनवरी, 2016 से 8 प्रतिशत अंतरिम राहत प्रदान करने की घोषणा की। इस घोषणा से कर्मचारियों को 700 करोड़ रुपये के लाभ प्राप्त होंगे।

वहीं मुख्यमंत्री ने 25 अनारक्षित हवाई अड्डों और 31 अनारक्षित हैलीपैड़ को जोड़ने वाली भारत सरकार के नागरिक उड्डयन मंत्रालय की क्षेत्रीय हवाई कनेक्टिविटी योजना ‘उडान’ शुरू करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का आभार व्यक्त किया। जय राम ठाकुर ने कहा कि उन्होंने मुख्यमंत्री का पदभार संभालने के उपरान्त अपने दिल्ली दौरे के दौरान प्रधानमंत्री के साथ पर्वतीय राज्य के दूर-दराज़ के क्षेत्रों में हवाई क्नेक्टिविटी प्रदान करने के बारे में विस्तृत चर्चा की थी और वह हिमाचल प्रदेश को उ्डान योजना में शामिल करने के लिए नरेन्द्र मोदी के आभारी हैं। इस योजना से सड़क मार्ग से यात्रा समय में बचत के अलावा निश्चित रूप से पर्यटन क्षेत्र को बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने कहा कि ‘मुझे सड़क तथा हवाई कनेक्टिविटी दोनों में सुधार करने की चिन्ता है’ और केन्द्र सरकार द्वारा उठाए गए कदमों से हिमाचल जैसा छोटा राज्य बेहतर ढंग से सैलानियों की आवश्यकताओं को पूरा कर पाएगा।

योजना के अन्तर्गत लोगों को विभिन्न गन्तव्यों के लिये सस्ती दरों पर हैलीकॉप्टर सेवाएं प्रदान की जाएंगी। ये सेवाऐं कसौली से शिमला, मनाली से कुल्लू, मण्डी से धर्मशाला, कुल्लू और शिमला, नाथपा-झाकड़ी से रामपुर के लिए, रामपुर से नाथपा-झाकड़ी तथा शिमला और शिमला से कसौली, मण्डी और रामपुर के लिए प्रदान की जाएंगी। हिमाचल प्रदेश में हवाई क्नेक्टिविटी प्रदान करने की यह सुविधा  प्रधानमंत्री से किए गए आग्रह से संभव हो पाई है, जो बड़े पैमाने पर पर्यटन को प्रोत्साहित करेगी।

योजना के तहत हवाई जहाज से एक घण्टे की उड़ान अथवा हैलीकॉप्टर से तीस मिनट की यात्रा के लिए प्रति सीट 2500 रुपये का भुगतान करना होगा। योजना के अन्तर्गत अभी तक 19 राज्यों को शामिल किया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हिमाचल प्रदेश जैसे पर्वतीय राज्यों में सड़कें ग्रामीण आर्थिकी व विकास की भाग्य रेखाएं मानी जाती हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार राज्य में सड़क निर्माण, विशेष रूप से ग्रामीण क्षेत्रों में सड़कों के विस्तार को विशेष प्राथमिकता देगी। प्रदेश सरकार सड़कों की गुणवत्ता में सुधार के लिए सड़क रख-रखाव नीति तैयार करेगी। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार ने हिमाचल प्रदेश के लिए 69 नए राष्ट्रीय उच्च मार्ग स्वीकृत किए हैं, जिसके लिए वह केन्द्र सरकार के आभारी हैं। उन्होंने कहा कि इससे राज्य में सड़क नेटवर्क का सुदृढ़ीकरण होगा।

 

 

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *