तपोवन विधानसभा में पक्ष-विपक्ष ने हिमाचल को विकास के पथ पर ले जाने के लिए दिखाई एकजुटता

तपोवन विधानसभा में पक्ष-विपक्ष ने हिमाचल को विकास के पथ पर ले जाने के लिए दिखाई एकजुटता

  • खास बात : भाजपा के विधायक और मंत्री लोगों से धैर्य से मिले व उनकी समस्याओं के समाधान का दिया आश्वासन
  • पक्ष ने जनता के हितों के लिए विपक्ष से जताई सहयोग की उम्मीद, तो विपक्ष ने भी प्रदेश के जनहित में अपने सहयोग देने की बात कही
  • जयराम ठाकुर की सरकार से जनता को बहुत उम्मीदें
  •  पक्ष विकासात्मक तरीके से काम करे व विपक्ष का सकारात्मक सहयोग मिले तो निश्चित रूप से ऊंचाईयां छुएगा प्रदेश
पक्ष ने जनता के हितों के लिए विपक्ष से जताई सहयोग की उम्मीद, तो विपक्ष ने भी प्रदेश के जनहित में अपने सहयोग देने की बात कही

पक्ष ने जनता के हितों के लिए विपक्ष से जताई सहयोग की उम्मीद, तो विपक्ष ने भी प्रदेश के जनहित में अपने सहयोग देने की बात कही

धर्मशाला : तपोवन धर्मशाला में चार दिवसीय शीतकालीन विधानसभा सत्र आज सपन्न हो गया। यह सत्र विशेष रूप से खास रहा। क्योंकि इस बार युवाओं का जनाधार पक्ष और विपक्ष दोनों में कुछ ज्यादा है तो वहीं भाजपा के हाथों प्रदेश की कमान। प्रदेश की जनता को भाजपा से काफी उमीदें हैं। यही वजह रही कि इस बार विधानसभा के बाहर लोगों की अपने चुने नेताओं से मिलने के लिए भारी तादाद में भीड़ भी देखने को मिली। वहीं एक खास बात यह भी रही कि भाजपा के विधायक और मंत्री लोगों से धैर्य से मिलते तथा उनकी समस्याओं को ध्यान से सुनते और उनकी समस्याओं के समाधान का आश्वासन देते नजर आए। सदन में जहां पक्ष ने जनता के हितों के लिए विपक्ष से सहयोग की उम्मीद जताई वहीं विपक्ष ने भी प्रदेश के जनहित में अपने सहयोग देने की बात कही। हालांकि हल्की-फुल्की नोंक-झोंक पक्ष-विपक्ष में चली लेकिन दोनों ने हिमाचल को विकास के पथ पर ले जाने के लिए एकजुटता दिखाई।

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने जहां केंद्र से भी मदद के लिये हिमाचल को अधिक से अधिक सहयोग लेने के प्रयास की बात कही वहीं उन्होंने विपक्ष दल से प्रदेश के हितों के लिए

 भाजपा के विधायक और मंत्री लोगों से धैर्य से मिले

भाजपा के विधायक और मंत्री लोगों से धैर्य से मिले

सकारात्मक सहयोग का आग्रह किया। एक ओर जहां प्रदेश विधानसभा में अध्यक्ष पद पर डॉ. राजीव बिंदल और उपाध्यक्ष हंसराज सवर्म्मति से चुने गए वहीं दूसरी ओर विपक्ष के नेता बने मुकेश अगिनहोत्री भी अपनी अहम जिम्मेवारी को अच्छे तरीके से निभाते नजर आए। उन्होंने प्रदेश के हितों के लिए पक्षारूढ़ मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर सरकार को अपनी पार्टी दवारा पूरा सहयोग देने की बात कही। विपक्ष के अन्य नेता भी इस बात के समर्थन में थे कि प्रदेश के विकास के लिए उनका सहयोग पक्ष के साथ रहेगा। उधर माकपा विधायक नेता राकेश सिंघा ने भी प्रदेश के विकास व जनहित के लिये सरकार से सहयोग की बात कही। नए युग का जो आगाज हुआ है, उम्मीद है इससे हिमाचल प्रदेश विकास के पथ पर आगे बढ़ेगा। क्योंकि जनता ने जो इस बार अपनी प्रतिक्रिया नेताओं के सामने लाकर रखी है वो वास्तव में नेताओं के लिए भी किसी अचंभे से कम नहीं। योजनाएं किसी की भी हों लेकिन अगर वो जनता के हितों के लिए है तो उसके विपक्ष को प्रदेश सरकार को पूरा सहयोग देना चाहिये और वहीं अगर प्रदेश के विकास की बात हो तो उसके लिए विपक्ष के सुझावों पर अमल करना पक्ष का दायित्व है। जनता को उम्मीदें जयराम ठाकुर की सरकार से बहुत ज्यादा हैं और उन उम्मीदों पर खरा उतरना प्रदेश सरकार को किसी चुनौती से कम नहीं। लेकिन प्रदेश हित के लिए सही मायनों में विकासात्मक तरीके से पक्ष काम करे और विपक्ष का सहयोग सकारात्मक मिले तो प्रदेश निश्चित रूप से ऊंचाईयों को छुएगा ऐसा मेरा मानना है। पक्ष और विपक्ष में नई पीढ़ी का आना इस वक्त प्रदेश के लिए बेहतरीन साबित हो और नए आयाम स्थापित करें ताकि जनता की उम्मीदें न टूटे और हम देश और विदेश के लिए ओर अधिक बेहतरीन, बेमिसाल व गौरवान्वित हिमाचल प्रदेश बना सके।

 

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *