संघ द्वारा प्रस्तुत जायज मांगों पर सहानुभूतिपूर्वक विचार किया जाएगा : शिक्षा मंत्री

संघ द्वारा प्रस्तुत जायज मांगों पर सहानुभूतिपूर्वक किया जाएगा विचार : शिक्षा मंत्री

  • शिक्षा मंत्री का सरकारी स्कूलों में नामांकन बढ़ाने और गुणात्मक शिक्षा पर बल

शिमला: शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्धाज ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश को देश भर में शिक्षा के क्षेत्र में शिरोमणी बनाने के प्रयास करेगी। उन्होंने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में विस्तार हुआ है और अभी भी इसमें और अधिक सुधार लाने की आवश्यकता है।

भारद्धाज आज यहां हिमाचल प्रदेश शिक्षक महासंघ के पदाधिकारियों के साथ आयोजित एक बैठक में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में सरकारी स्कूलों में बेहतर अधोसंरचना व शिक्षक होने के बावजूद भी विद्यार्थियों का नामांकन कम होना चिंता का विषय है। नामांकन को बढ़ाने के लिए हम सभी को मिलजुल का प्रयास करने की आवश्यकता है और अध्यापक संकाय को इसके लिये अतिरिक्त प्रयास करने होंगे। उन्होंने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में शिक्षक व समाज के अन्य वर्गों के सहयोग से ही विकास किया जा सकता है और हमारी सरकार का लक्ष्य विद्यार्थियों को गुणात्मक व संस्कारयुक्त शिक्षा प्रदान करना है। उन्होंने कहा कि संघ द्वारा प्रस्तुत जायज मांगों पर सहानुभूतिपूर्वक विचार किया जाएगा।

इस अवसर पर शिक्षक महासंघ के प्रांताध्यक्ष रजनीश चौधरी ने शिक्षा मंत्री को मांगों को लेकर एक ज्ञापन सौंपा।

बैठक में शिक्षा सचिव डा. अरूण शर्मा, उच्च शिक्षा निदेशक डा. अमर देव, प्रारम्भिक शिक्षा निदेशक श्री मनमोहन शर्मा व संघ के पदाधिकारी उपस्थित थे।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *