विदेशी पर्यटकों के आगमन में 18.1 प्रतिशत का इजाफा, ई-पर्यटक वीजा पर 67.3 प्रतिशत की वृद्धि

विदेशी पर्यटकों के आगमन में 18.1 प्रतिशत का इजाफा, ई-पर्यटक वीजा पर 67.3 प्रतिशत की वृद्धि

नई दिल्ली: पर्यटन मंत्रालय आप्रवासन ब्यूरो (बीओआई) से प्राप्त राष्ट्रीयता-वार एवं बंदरगाह-वार आंकड़ों के आधार पर विदेशी पर्यटकों के आगमन (एफटीए) के सा‍थ-साथ ई-पर्यटक वीजा पर विदेशी पर्यटकों के आगमन के मासिक अनुमानों का भी संकलन करता है।

अक्‍टूबर, 2017 के दौरान एफटीए और ई-पर्यटक वीजा पर एफटीए से जुड़ी खास बातें निम्नलिखित रहीं :

  • विदेशी पर्यटकों का आगमन (एफटीए) :

अक्‍टूबर, 2017 के दौरान एफटीए का आंकड़ा 8.76 लाख का रहा, जबकि अक्‍टूबर 2016  में यह 7.42 लाख और अक्‍टूबर 2015 में 6.83 लाख था।

अक्‍टूबर, 2016 की तुलना में अक्‍टूबर, 2017 के दौरान एफटीए की वृद्धि दर 18.1 प्रतिशत रही, जबकि अक्‍टूबर, 2015 की तुलना अक्‍टूबर 2016 में वृद्धि दर 8.6 प्रतिशत रही थी।

जनवरी-अक्‍टूबर, 2017 के दौरान एफटीए का आंकड़ा 79.96 लाख का रहा, जो पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 15.8 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्शाता है। इसी तरह जनवरी-अक्‍टूबर, 2015 के मुकाबले जनवरी-अक्‍टूबर, 2016 में एफटीए 9.6 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 69.05 लाख के स्‍तर पर पहुंच गया था।

शीर्ष 15 स्रोत देशों में अक्‍टूबर, 2017 के दौरान भारत में एफटीए में सर्वाधिक हिस्सा बांग्लादेश (21.66%) का रहा। इसके बाद हिस्‍सा क्रमश: अमेरिका (11.57%), ब्रिटेन (10.23%), श्रीलंका (3.79%), कनाडा (3.36%), जर्मनी (3.17%), ऑस्ट्रेलिया (3.07%), फ्रांस (2.81%), रूसी संघ (2.81%), मलेशि‍या (2.76%), जापान (2.44%), थाईलैंड (2.10%), चीन (1.93%), नेपाल (1.66%)और कोरिया गणराज्‍य (1.48%) का रहा।

शीर्ष 15 पोर्टों में अक्‍टूबर, 2017 के दौरान भारत में एफटीए में सर्वाधिक हिस्सा दिल्ली एयरपोर्ट (32.56 प्रतिशत) का रहा। इसके बाद हिस्सा क्रमशः मुंबई एयरपोर्ट (14.02%), हरिदासपुर लैंड चेक पोस्ट (11.29 प्रतिशत), चेन्नई एयरपोर्ट (6.10%), बेंगलुरू एयरपोर्ट (5.19%), कोलकाता एयरपोर्ट (4.55%), गेडे रेल लैंड चेक पोस्‍ट (3.02), कोच्चि एयरपोर्ट (2.70 प्रतिशत), डाबोलिम (गोवा) एयरपोर्ट (2.58%), हैदराबाद एयरपोर्ट (2.53 प्रतिशत), सोनौली लैंड चेक पोस्‍ट (1.86 प्रतिशत), अहमदाबाद एयरपोर्ट (1.77 प्रतिशत), घोजाडंगा लैंड चेक पोस्ट (1.64%), अमृतसर एयरपोर्ट (1.53प्रतिशत) और त्रिवेंद्रम एयरपोर्ट (1.20 प्रतिशत) का रहा।

  • ई-पर्यटक वीजा पर विदेशी पर्यटकों का आगमन (एफटीए)

अक्‍टूबर, 2017 के दौरान ई-पर्यटक वीजा पर कुल मिलाकर 1.76 लाख विदेशी पर्यटक आए, जबकि अक्‍टूबर, 2016 में यह संख्‍या 1.05 लाख थी। यह 67.3 प्रतिशत की वृद्ध‍ि‍ दर्शाता है।

जनवरी-अक्‍टूबर, 2017 के दौरान ई-पर्यटक वीजा पर कुल मिलाकर 12.43 लाख विदेशी पर्यटक आए, जबकि जनवरी-अक्‍टूबर, 2016 में यह संख्‍या 7.81 लाख थी। यह 59.2 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्शाता है।

अक्‍टूबर, 2017 के दौरान ई-पर्यटक वीजा सुविधाओं का लाभ उठाने वाले शीर्ष 15 स्रोत देशों की हिस्‍सेदारी कुछ इस तरह रही : ब्रिटेन (18.2%), अमेरिका (9.7%), फ्रांस (6.3%), जर्मनी (6.0%),ऑस्ट्रेलिया (4.3%), रूसी संघ (4.1%), कनाडा (3.9%), थाईलैंड (3.7%), चीन (3.7%), कोरिया गणराज्‍य (2.6%), स्‍पेन (2.3%), ओमान (2.2%), इटली (2.2%), नीदरलैंड (1.9%) और मलेशिया (1.6%)।

अक्‍टूबर, 2017 के दौरान ई-पर्यटक वीजा पर विदेशी पर्यटकों के आगमन में शीर्ष 15 पोर्टों की हिस्‍सेदारी कुछ इस तरह रही : नई दिल्ली हवाई अड्डा (53.0%), मुंबई एयरपोर्ट (16.6%), बेंगलुरू एयरपोर्ट (5.5%), चेन्नई एयरपोर्ट (5.3%), डाबोलिम (गोवा) हवाई अड्डा (4.5%), कोच्चि हवाई अड्डा (3.5%), कोलकाता हवाई अड्डा (2.5%), हैदराबाद हवाई अड्डा (2.4%), अमृतसर हवाई अड्डा (2.0%), त्रिवेंद्रम हवाई अड्डा (1.1%), अहमदाबाद हवाई अड्डा (1.0%), जयपुर एयरपोर्ट (0.7%), गया एयरपोर्ट (0.6%), कालीकट हवाई अड्डा (0.4%) और त्रिची एयरपोर्ट (0.4%)।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *