शूलिनी विवि ने किया ‘स्वच्छ भारत’ के लिए मैराथन दौड़ का आयोजन

  • दौड़ का आयोजन करवाने का उद्देश्य ‘स्वच्छ भारत’ थीम पर लोगों को जागरूक करना था
  • मैराथन विजेताओं को 3100, 2100 व 1100 रुपये के नकद इनाम से गया नवाजा
  • सोलन उपायुक्त ने किया मैराथन दौड़ का शुभारंभ
  • 1100 से अधिक लोगों ने दौड़ में लिया हिस्सा
सोलन उपायुक्त ने किया मैराथन दौड़ का शुभारंभ

सोलन उपायुक्त ने किया मैराथन दौड़ का शुभारंभ

सोलन: हर साल के तरह, इस साल भी शूलिनी विश्वविद्यालय ने शिक्षक दिवस के उपलक्ष में मैराथन दौड़ का आयोजन किया। इस साल दौड़ का आयोजन ‘स्वच्छ भारत’ थीम पर लोगों को जागरूक करने के लिए किया गया। यह लगातार छठा वर्ष है जब शूलिनी ने किसी सामाजिक मुद्दे को आधार मानकर इस दौड़ का आयोजन करवाया है।

इस दौड़ में छात्र और छात्राओं के अलावा कई विभिन्न आयु वर्ग बनाए गए थे जिसमें कोई भी भाग ले सकता था। मैराथन दौड़ का शुभारंभ सोलन उपायुक्त राकेश कंवर ने मॉल रोड पर स्थित सिल्ब संस्थान से सुबह करीब 7: 00 बजे किया। इस अवसर पर 1100 से अधिक लोगों ने दौड़ में भाग लिया जिसमें शूलिनी विवि और सिल्ब के छात्रों और संकाय के अलावा सोलन वासी भी शामिल थे।

मैराथन दौड़ के अवसर पर मुख्यातिथि ने सभी सहभागियों को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि उन्हें ये दौड़ खेल भावना से पूरी करनी चाहिए और स्वच्छ भारत जैसे नेक विषय पर दृढ़ता से काम करना चाहिए। यह मैराथन सोलन के अपयुक्त ऑफिस से होते हुए राजगढ़ रोड पर ठोडो मैदान, जटोली होते हुए करीब 15 किलोमीटर की दूरी पूरी करते हुए शूलिनी विश्वविद्यालय बझोल में समाप्त हुई। सभी श्रेणियों में सबसे कम समय लेकर मैराथन पूरी करके राजू खटका, तेज वालिया और चमन को पहले, दूसरे, और तीसरे स्थान पर रहे। उन्हें 3100, 2100 और 1100 रुपये के नकद इनाम से नवाजा गया। ओपन कैटेगरी में नितका ने बाज़ी मारी।

1100 से अधिक लोगों ने दौड़ में लिया हिस्सा

1100 से अधिक लोगों ने दौड़ में लिया हिस्सा

शूलिनी के छात्रों की तरफ से राजेश, अरुनिम शर्मा और नरेंदर पहले, दूसरे, और तीसरे स्थान पर रहे। छात्राओं की ओर से कविता, मीनक्षी और रचना ने पहला दूसरा और तीसरा स्थान हासिल किया। सिल्ब संस्थान से लड़कों में सत्यम, जितेंदर और हितेन्दर पहले, दूसरे, और तीसरे स्थान पर रहें। वहीं छात्राओं में मीनक्षी, कमलेश और पलमु ने बाज़ी मारी। स्टाफ के लिए भी कई आयु वर्ग बनाए गए थे। 25 से 45 साल के आयु वर्ग में शूलिनी से दीपक भरंटा, हरनाम और पवन ने पहले तीन स्थान हासिल किए। महिला वर्ग में एलिस, संतोष और हर्षा विजता रहीं। सिल्ब से पुरुषों में श्याम और डॉ गुरुदेव ने पहला और दूसरा स्थान हासिल किया। सिल्ब से महिला वर्ग में मीनक्षी प्रथम स्थान पर रही। 45-65 आयु वर्ग में डॉ आरपी द्विवेदी, डॉ नरेंदर वर्मा और डॉ देवेश और 65 वर्ष से ऊपर की श्रेणी में डॉ विनोद कुमार, कर्नल टीपीएस गिल और डॉ जीके शर्मा ने बाज़ी मारी। वरिष्ठ स्टाफ की ओर से प्रोफ़ेसर खोसला पहले स्थान पर रहे।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *