देवी-देवताओं के नज़राने में पांच प्रतिशत की बढ़ोतरी

देवी-देवताओं के नज़राने में पांच प्रतिशत की बढ़ोतरी

शिमला: मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने अन्तर्राष्ट्रीय कुल्लू दशहरा में भाग लेने वाले देवी-देवताओं के नज़राने में पांच प्रतिशत की वृद्धि की घोषणा की है और ‘श्रीखंड महोदव’ यात्रा के लिए कुल्लू दशहरा की निधि से 10 लाख रुपये जारी करने के भी निर्देश दिए। मुख्यमंत्री आज यहां 30 सितम्बर, 2017 से आरम्भ होने वाले सप्ताह भर चलने वाले अन्तर्राष्ट्रीय कुल्लू दशहरा के आयोजन के सम्बन्ध में राज्य स्तरीय बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि कुल्लू दशहरा राज्य के लोगों के लिए महत्चपूर्ण आयोजन है और यह सुनिश्चित बनाया जाना चाहिए कि इसकी सांस्कृतिक विरासत यथावत बनी रहे। उन्होंने कला केन्द्र में दिन के समय गांवों की अन्तर सांस्कृतिक प्रतियोगिताएं शुरू करवाने के भी निर्देश दिए ताकि जिला के दूरवर्ती क्षेत्रों से आए लोगों का भरपूर मनोरंजन हो सके। मुख्यमंत्री ने बड़े पैमाने पर ग्रामीण खेल गतिविधियां आयोजित करने के भी निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि राज्य के बाहर से आने वाले अन्तर्राष्ट्रीय कलाकारों तथा सांस्कृतिक दलों की समुचित देख-भाल की जानी चाहिए तथा किसी भी स्थिति में कानून व  व्यवस्था को बनाए रखा जाना चाहिए।

कुल्लू के उपायुक्त युनूस खान ने कहा कि सप्ताह भर चलने वाले दशहरा महोत्सव में भाग लेने के लिए लगभग 305 स्थानीय देवी-देवताओं को आमंत्रित किया गया है। उन्होंने व्यय तथा बचत के लेखे-जोखे का विस्तृत ब्यौरा दिया। उन्होंने कहा कि दशहरा समिति के आग्रह पर रूस से सांस्कृतिक दल ने उत्सव में भाग लेने के अलावा आईसीसीआर नई दिल्ली तीन अन्तर्राष्ट्रीय सांस्कृतिक दलों के लिए सहमत हुई है। उन्होंने कहा कि समिति ने श्रीलंका, मध्यपूर्व तथा लेटिन अमेरिका से सांस्कृतिक दलों के लिए आग्रह किया है।

उन्होंने स्थानीय कलाकारों की उपयुक्त स्क्रीनिंग करने और प्रस्तुति के दौरान पारम्परिक परिधानों का प्रयोग सुनिश्चित बनाने का आश्वासन दिया।

मुख्य सचिव वी.सी. फारका ने पर्यटन विभाग से भी पर्याप्त वित्तीय सहायता प्रदान करने का आश्वासन दिया।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *