ताज़ा समाचार

दांतों की सफाई का रखें ख्याल, रोजाना दो बार ब्रश जरूरी

दांतों की सफाई का रखें ख्याल, रोजाना दो बार ब्रश जरूरी

दांत स्वस्थ हों तो आपको खाने में किसी भी प्रकार की कभी कोई समस्या नहीं हो सकती इसलिए आवश्यक है कि दांतों की सफाई रखी जा सके। हम आपको इस बार दांतों संबंधित विषय पर अपने हेल्थ कॉलम में जानकारी देने जा रहे हैं ताकि आप दांतों की सफाई लिए जरूरी बातें हमेशा ध्यान में रखें और आपके दांत मोतियों से चमक उठें।

दांतों को रोजाना दो बार ब्रश करना जरुरी होता है, अगर आप रात को बिना ब्रश किये सो जाते हैं तो ये आपके दांतो के लिए अच्छा नहीं होगा, इससे दांतों और मुंह में कई तरह की समस्याएं हो सकती हैं। चमकदार दांत आपके चेहरे की खूबसूरती को बढ़ाते है। वहीं, अगर दांत साफ न हो तो लोगों के सामने शर्मिंदा होना पड़ता है। कई बार ब्रश करते समय मसूड़ों से खून आता है। इस समस्या से कई लोग परेशान रहते हैं। मसूड़ों में सूजन होने के कारण भी कई बार ऐसा होता है।

ब्रश न करने के नुकसान

  • ब्रश करने से दांतों में फंसे  भोजन के टुकड़े निकल जाते हैं। यह प्लाक को निकालने में भी मददगार होता है जो की दांतों में बैक्‍टीरिया पैदा करता है। जिन आहारों में शक्कर की मात्रा ज्यादा हो उसे खाने के बाद ब्रश जरुर करें। एेसे में अगर ब्रश न किया जाए तो दांत सड़ने लगते हैं।
  • बदलते लाइफस्टाइल में गलत खान-पान के कारण भी इस समस्या का सामना करना पड़ता है। आजकल लोग फास्ट फूड खाना पसंद करते हैं और खाने के बाद दांत भी साफ नहीं करते। कई लोग रात को दूध पीते हैं और ब्रश करना जरूरी नहीं समझते। एेसे में मुंह से आने वाली बदबू इस समस्या की शुरुआत है।
  • रात को सोने से पहले ब्रश करने की आदत डालें। अगर आप कुछ भी खाएं और ब्रश न भी करें पर कुल्ला जरुर करें। ब्रश को आगे-पीछे, ऊपर-नीचे और अंदर-बाहर धीरे-धीरे घुमाते हुए हल्के हाथों से करें। जीभ को साफ करना न भूलें।
  • ताजी सब्जियों का सेवन करने से मसूड़े स्वस्थ रहते है। इसके अलावा इसे खाने से मसूड़ों में जमी गंदगी दूर होती है। ऐसे में अपनी डाइट में हरी सब्जियों को शामिल करें।
  • दांतों के लिए लौंग का तेल बहुत ही फायदेमंद होता है। लौंग के तेल से मसूड़ों की मालिश करें। इससे खून आना बंद होगा।
  • मसूड़ों को स्वस्थ रखने के लिए नमक के पानी का इस्तेमाल करें। दिन में एक बार हल्के गुनगुने पानी में नमक मिलाकर गरारे करें। इससे दांतों से संबंधित हर समस्या दूर होगी।

गलत तरीके से ब्रश करना हो सकता है नुकसानदेह

  • अधिकतर लोग रात को खाना खाने के बाद ब्रश नहीं करते, जिससे मसूड़ों में गंदगी रह जाती है। ऐसे में मसूड़ों से खून आने लगता है। दांतों की समस्या से बचने के लिए दिन में दो बार ब्रश करें। दांतों को स्वस्थ रखने के लिए रात को ब्रश करना न भूलें। इसे करने से दांतों पर चिपका प्लाक निकल जाता है। यह बैक्टीरिया की एक पतली परत है जो दांतों में  कैविटी और मसूड़ों में बीमारी पैदा कर देती है। अगर इस पर ध्यान न दिया जाए तो दांत कमजोर हो जाते हैं और गिरने लगते हैं। रात में सोने से पहले दांतों को एक बार जरुर ब्रश करें।
  • ब्रश को जोर-जोर से न रगड़े। धीरे-धीरे एक से दो मिनट के लिए ब्रश करें।
  • ब्रश के ब्रिसल मुलायम हों। इस बात का ब्रश खरीदते वक़्त ध्यान रखें। साथ ही बहुत बड़ा या छोटा ब्रश भी न लें। ब्रश का सही चयन डेंटिस्ट से पूछ कर भी किया जा सकता है।
  • हर तीन महीने में अपना ब्रश बदल लें।
  • आगे के दांतों के साथ-साथ पीछे के दांतों पर भी ब्रश करें। अक्सर देखा गया है कि लोगों के पीछे के दांत खराब पीले पड़ जाते हैं क्योंकि पीछे के दांतों पर ब्रश नहीं की जा रही होती।
  • ब्रश पर ज्यादा टूथपेस्ट ना लगाएं। इससे ज्यादा झाग बनेंगे और आपको ब्रश करने में परेशानी होगी।
  • दांत साफे करने के बाद ब्रश के पिछले हिस्से से जीभ को भी साफ करना ना भूलें।
  • सबसे आखिरी में पानी से अच्छी तरह कुल्ला करें।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *