कोरोना काल में भी भारतीय अर्थव्यवस्था को अंतरराष्ट्रीय एजेंसियों की सराहना : अनुराग ठाकुर

“खेलेगा युवा, जीतेगा हिमाचल”, जमीनी स्तर पर खेलों के उत्थान के लिए होगा काम : अनुराग

शिमला:  हिमाचल प्रदेश सांसद अनुराग ठाकुर ने हिमाचल प्रदेश प्रदेश को खेल भूमि बनाने के अपने सपने को साकार करने के लिए, एक बड़ा ऐलान किया है।  उन्होंने खेलेगा युवा, जीतेगा हिमाचल कार्यक्रम के दूसरे चरण की शुरूआत करने की घोषणा करते हुए कहा कि यह कार्यक्रम जमीनी स्तर पर खेलों को बढ़ावा देने का कार्य करेगा। ज्ञात हो की अनुराग ठाकुर ने जून में ओलिंपिक दिवस के अवसर पर, हमीरपुर में राज्यस्तरीय ओलिंपिक खेल आयोजित किये थे जो खेलेगा युवा जीतेगा हिमाचल का पहला चरण था जिसमे राज्य के कई युवा खिलाडियों को अपनी प्रतिभा दिखाने मौका मिला था।

इस  पर टिप्पणी करते हुए अनुराग ठाकुर ने कहा, भारत अपनी 70 साल की स्वतंत्रता इस साल मना रहा है और एक नई आशा की किरण  भारत के लिए आज प्रधानमंत्री के न्यू इंडिया के सपने में देख रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के सपनों के भारत में युवा तथा खेलों को प्राथमिकता दी गयी है जिससे आनेवाले ओलिंपिक खेलों में भारत को मिलने वाली पदकों में इजाफा हो सके और ओलंपिक पदक जीतने के लिए, हमें जमीनी स्तर से शुरूआत करनी होगी।श्

उन्होंने आगे कहा कि, श्प्रधानमंत्री के सपनों को पूरा करने के लिए हमे भी अपना योगदान देना होगा और इसी कड़ी में, हिमाचल/70 नाम का एक अभियान चलाया  जा रहा  है। इस अभियान में, आजादी के 75 वें वर्ष तक “न्यू हिमाचल” बनाने के लिए 7 प्रतिज्ञाएं ली जाएंगी। खेलेगा युवा, जीतेगा हिमाचल इन 7 प्रतिज्ञाओं में से एक है।

खेलेगा युवा, जीतेगा हिमाचल के दूसरे चरण में, 300 से अधिक छात्रों की संख्या  वाले 7 स्कूलों में 7 खेलों को बढ़ावा दिया जायेगा। इस पहल का उद्देश्य खेल प्रतिभाओं की पहचान करना, उनको  सही मार्गदर्शन में आगे बढ़ाना,  और साथ ही ड्रग्स जैसे खतरों के शिकार होने से बचाना और साथ-साथ उनकी ऊर्जा को सही दिशा में बेहतर कल की ओर लगाना है। हमीरपुर  संसदीय क्षेत्र में 300+ छात्रों की क्षमता वाले स्कूलों को चुना जाएगा और स्कूलों में खेल के बुनियादी ढांचे का विकास करने के लिया 2 करोड़ का प्रावधान किया जाएगा।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *