प्राथमिक कक्षाओं में शैक्षणिक गुणवता के लिए प्रेरणा कार्यक्रम महत्वपूर्णः उपायुक्त

प्राथमिक कक्षाओं में शैक्षणिक गुणवता के लिए प्रेरणा कार्यक्रम महत्वपूर्णः उपायुक्त

शिमला: प्राथमिक कक्षाओं में छात्रों के भाषा एवं गणित विषयों में शैक्षणिक गुणवता व सुधार के लिए जिला प्रशासन का महत्वकांक्षी कार्यक्रम प्रेरणा अत्यन्त महत्वपूर्ण है। ये जानकारी आज उपायुक्त शिमला रोहन चंद ठाकुर ने प्रेरणा कार्यक्रम के अन्तर्गत बुलाई गई बैठक की अध्यक्षता करते हुए दी।

उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम का मुख्य उदेश्य प्राथमिक स्कूलों के विद्यार्थीयों को भाषा और गणित के प्रति अधिक सक्षम बनाना है। उन्होंने जिला के विभिन्न क्षेत्रों से आए शिक्षा विभाग के खण्ड स्तरीय अधिकारियों को अपने-अपने खण्ड के प्रत्येक क्षेत्र में स्कूल समूहों का चुनाव कर निगरानी और जांच के माध्यम से स्कूलों के बच्चों के स्तर को ऊपर उठाने के लिए गम्भीरता से कार्य करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि अभिभावक शिक्षक बैठकों व अन्य कार्यक्रमों के माध्यम से कमजोर बच्चों में सुधार लाने के लिए चर्चा, चिंतन व विचारों के आदान-प्रदान से समन्वित प्रयास करें। उन्होंने कहा कि प्रत्येक स्कूल में कमजोर सम्प्रति को सुधारने की आवश्यकता है। इस संबंध मे समीक्षा, निगरानी व विद्यालय के अन्य कार्यक्रमों के माध्यम से प्रेरणा कार्यक्रम को गति प्रदान करे।

उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम के तहत गुणात्मक शिक्षा और शैक्षणिक सुधारात्मक कदम उठाते हुए वैबसाइट भी स्थापित की गई है। उन्होंने अधिकारीयों को इस वैबसाइट के द्वारा आपसी तालमेल और समन्वय स्थापित करने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि इस संबंध में व्हाटस एप ग्रुप का भी निर्माण किया जाएगा ताकि विचार सांझा करने एवं जानकारीयों के आदान-प्रदान करने में सुविधा हो तथा इस कार्यक्रम को और अधिक गति मिल सके। उन्होंने बैठक में उपस्थित सभी अधिकारीयों से वैबसाइट व व्हाटस एप का निरन्तर साकारात्मक उपयोग करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस व्हाटस एप ग्रुप में जिला प्रशासन के विभिन्न स्तर के तथा शिक्षा विभाग के अधिकारीयों को भी जोड़ा जाएगा। उन्होंने कहा कि आगामी 3 महीने के उपरान्त इस कार्यक्रम के समीक्षा बैठक में शैक्षणिक सुधार एवं गुणवता के साकारात्मक नतीजे प्राप्त हो इसके लिए सब मिलजुल कर कार्य करें।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *