खादी को बड़े पैमाने पर लोगों में लोकप्रिय बनाने की आवश्यकता : अग्निहोत्री

खादी को बड़े पैमाने पर लोगों में लोकप्रिय बनाने की आवश्यकता : अग्निहोत्री

  • हिमाचल प्रदेश खादी एवं ग्रामोद्योग के निदेशक मण्डल की 227वीं बैठक आयोजित

शिमला: हिमाचल प्रदेश खादी एवं ग्रामीण उद्योग बोर्ड ने वित्तीय वर्ष 2016-17 के दौरान 19 करोड़ रुपये का लाभ अर्जित किया है। यह जानकारी आज यहां उद्योग मंत्री मुकेश अग्निहोत्री की अध्यक्षता में आयोजित हिमाचल प्रदेश खादी एवं ग्रामोद्योग के निदेशक मण्डल की 227वीं बैठक में दी गई।

इस अवसर पर मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि खादी को बड़े पैमाने पर लोगों में लोकप्रिय बनाने की आवश्यकता है ताकि आम आदमी भी इसके फायदो से प्रति जागरूक हो सके। उन्होंने कहा कि खादी बोर्ड न केवल लाभ अर्जित करने के उद्देश्य से नहीं बनाया गया है, बल्कि यह बोर्ड ग्राम उद्योगों को लोकप्रिय बनाने की मुहिम में जुड़ा है तथा महात्मा गांधी की इस विरासत को भावी पीढ़ी तक पहुंचाने के प्रति कृतसंकल्प है। उन्होंने कहा कि बोर्ड सेवा प्रदात्ता तथा रोजगार सृजक की भूमिका भी निभा रहा हैं

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री रोजगार सृजनता योजना के अन्तर्गत प्रदेश में 425.50 लाख के निवेश से 51 इकाइयां स्थापित की गई हैं। उन्होंने कहा कि यह इकाइयां प्रदेश में 306 लोगों को रोजगार प्रदान कर रही हैं।

खादी एवं ग्राम उद्योग बोर्ड के उपाध्यक्ष रमेश चौहान ने मंत्री का स्वागत किया तथा बोर्ड की विभिन्न गतिविधियों बारे विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने मंत्री को भरोसा दिलाया कि बोर्ड राज्य सरकार की अपेक्षाओं पर खरा उतरते हुए उत्साह के साथ काम करेगा।

हिमाचल प्रदेश खादी एवं ग्राम उद्योग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जोगिन्द्र सांजटा ने मुख्य अतिथि का स्वागत किया तथा बैठक की कार्यवाही का संचालन किया। अतिरिक्त मुख्य सचिव उद्योग ए.जे.वी. प्रसाद, उद्योग विभाग के निदेशक राजेश शर्मा, बोर्ड के अन्य गैर अधिकारी निदेशक तथा वरिष्ठ अधिकारी भी बैठक में सम्मिलित थे।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *