हिमाचल में ऐसा खेलों का महाकुम्भ पहली बार देखा : राजीव मेहता

हिमाचल में ऐसा खेलों का महाकुम्भ पहली बार देखा : राजीव मेहता

  • हिमाचल ऑलम्पिक खेलों का उत्साह और रोमांच लगातार दूसरे दिन भी चरम पर
  • प्रदेश भर से आये खिलाड़ियों ने दिखाए हुनर
  • अंतर्राष्ट्रीय ऑलम्पिक संघ के महासचिव राजीव मेहता ने बढ़ाया खिलाड़ियों का हौंसला
  • ज़्यादातर खेलों के फाइनल में पहुँचने के कारण पदक तालिका में हमीरपुर रह सकता है सबसे आगे
  • खेलों के महोत्सव के दूसरे दिन कुश्ती, बॉक्सिंग, हॉकी और जूडडो के धमाकेदार मुकाबले

हमीरपुर : हिमाचल ऑलम्पिक खेलों का उत्साह और रोमांच लगातार दूसरे दिन भी चरम पर रहा। हिमाचल प्रदेश ऑलम्पिक संघ के अध्यक्ष व सांसद अनुराग ठाकुर द्वारा “खेलेगा युवा  जीतेगा हिमाचल” के नारे से प्रेरित होकर प्रदेश के सभी जिलों से आए खिलाड़ियों ने विभिन्न खेलों में अपना-अपना दम दिखाया। हिमाचल प्रदेश के खेलों के महोत्सव के लगातार दूसरे दिन कुश्ती, बॉक्सिंग, हॉकी और जुडडो के धमाकेदार मुकाबले हुए।

भारतीय ऑलम्पिक संघ के महासचिव राजीव मेहता आज “हिमाचल ऑलम्पिक” में बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित हुए। इस अवसर पर राजीव मेहता ने कहा कि इस स्तर की खेलों का महाकुम्भ हिमाचल प्रदेश में पहली बार देखा है। हिमाचल ऑलम्पिक संघ और उसके अध्यक्ष अनुराग ठाकुर की इन खेलों और खिलाड़ियों के विकास के लिए इस कदम की सराहना की। उन्होंने विश्वास जताया कि “हिमाचल ऑलम्पिक” के माध्यम से हिमाचल प्रदेश जैसे छोटे राज्य से भी राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर खिलाड़ी पहुंचेंगे। उन्होंने कहा कि चाहे नेशनल चैंपियन भारतोलक विकास ठाकुर हों, जूडडो के नेशनल चेम्पियन मुनीश कुमार हों, या राष्ट्रीय स्वर्ण पदक विजेता मंडी ज़िले के बॉक्सर आशीष कुमार हों और ऐसे ही हिमाचल की अन्य खेल प्रतिभाएं, हिमाचल प्रदेश का नाम देश और विदेश में अवश्य रौशन करेंगे। इस प्रकार के आयोजनों से ज़मीनी स्तर के प्रदेश के जिला स्तर के खिलाड़ियों को अपनी प्रतिभाओं को दर्शाने का मौका मिलेगा।

  • 84 किलोग्राम पुरुष कुश्ती के क्वाटर फ़ाइनल में हमीरपुर के पंकज ने मंडी के तिलकराज को दी मात

84 किलोग्राम वज़न कैटेगरी के पुरुष कुश्ती के क्वाटर फ़ाइनल के रोमांचक मुकाबले में हमीरपुर के पंकज ने मंडी के तिलकराज को 14-12 के स्कोर से मात दी। मुकाबले के पहले दौर में पंकज 0-3 से पिछड़ रहे थे, लेकिन दूसरे दौर में स्थानीय लोगों के उत्साहवर्धन से 6-4 से बढ़त हासिल की और अंत में 14-12 से जीत हासिल कर सेमीफाइनल राउंड में प्रवेश किया। 66 किलोग्राम वज़न कैटेगरी में एक और रोमांचक मुकाबला हुआ। जिसमें सोलन के मुस्कीन और ऊना के बलबीर की टक्कर हुई। उत्तम टेक्निक का प्रयोग कर बलबीर ने मुस्कीन को करीबी मुकाबले, 14-13 से मात दी और फ़ाइनल राउंड में प्रवेश किया।

  • 75 किलोग्राम पुरुष बॉक्सिंग में मंडी के आशीष कुमार ने किन्नौर के आशीष नेगी को हराया
  • भारतोलन के 69 किलोग्राम के दोनों पुरुष व महिला मुकाबलों में मंडी ज़िले ने मारी बाज़ी

75 किलोग्राम पुरुष बॉक्सिंग में राष्ट्रीय स्वर्ण पदक विजेता, मंडी ज़िले के आशीष कुमार ने किन्नौर ज़िले के आशीष नेगी को मात दी। 64 किलोग्राम वज़न केटेगरी के सेमिफ़ाइनल मुकाबले में शिमला के बॉक्सर मोहम्मद ऐश ने करीबी मुकाबले में मंडी ज़िले के पुरन देव को 3-2 से मात दी। हमीरपुर की जनता ने अपनी स्थानीय टीमों का भरपूर उत्साहवर्धन किया जिसके फलस्वरूप उनकी महिला व पुरुष बॉस्केटबाल और महिला हॉकी के फ़ाइनल में जगह पक्की की। हमीरपुर और मंडी के बीच महिला फ़ाइनल हॉकी का मुकाबला होगा। महिला कबड्डी मुकाबले में कांगड़ा ज़िले ने सिरमौर को 53-17 से मात दी। भारतोलन के 69 किलोग्राम के दोनों पुरुष व महिला मुकाबलों में मंडी ज़िले ने बाज़ी मारी। पुरुष वर्ग में निर्मल सिंह और महिला वर्ग में प्रिया देवी ने स्वर्ण पदक जीते।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *