किसानों के समर्थन में प्रदेश कांग्रेस सोलन में करेगी किसान सम्मेलन

हिमाचल में बिहार राजनीति के ओछे हथकंडे अपनाने की कोशिश कर रहे हैं पांडे : कांग्रेस

शिमला: मंगल पांडे हिमाचल में बिहार राजनीति के ओछे हथकंडे अपनाने की कोशिश कर रहे हैं। कुछ समाचार पत्रों में प्रकाशित भारतीय जनता पार्टी के राज्य प्रभारी मंगल पांडे के ब्यान पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए वन मंत्री ठाकुर सिंह भरमौरी, उद्योग मंत्री मुकेश अग्निहोत्री तथा आबकारी एवं कराधान मंत्री प्रकाश चौधरी ने आज जारी एक संयुक्त वक्तव्य में कड़े शब्दों में निंदा करते हुए कहा कि उन्होंने कहा कि हिमाचल बिहार नहीं है। यह प्रतीत हो रहा है कि पांडे को उनका नया दायित्व हज़म नहीं हो रहा है तथा वह बीजेपी में अपनी उपस्थिति दर्ज करवाने की जल्दी में है। यदि उन्हें राज्य प्रभारी बनने का अवसर प्रदान किया है तो उन्हें सर्वप्रथम प्रदेश की राजनीति को समझने की कोशिश करनी चाहिए तथा मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की प्रतिष्ठा व राजनीतिक कद को जानना चाहिए, जिनके खिलाफ वह स्थानीय भाजपा नेताओं के इशारें पर आए दिन जहर उगल रहे हैं।

उन्होंने कहा कि पांडे को अपनी भाषा पर संयम बरतना चाहिए। मंत्रियों ने उन्हें न्यायालय में विचाराधीन मामलों पर बेवजह बोलने के लिए दोषी ठहराया तथा कहा कि पांडे इस ब्यानबाजी के सहारे आगामी विधानसभा चुनावों में हिमाचल प्रदेश में भाजपा सरकार बनाने का दिवास्वप्न देख रहे हैं।

मंत्रियों ने मुख्यमंत्री पर लगाए गए भ्रष्टाचार के आरोपों पर लोगों को भ्रमित करने तथा वर्तमान सरकार को अस्थिर करने के लिए अनावश्यक वक्तव्यों पर चेताते हुए पांडे को सलाह दी कि उन्हें इस तरह के दाव पेचों से बचना चाहिए या फिर ‘घेराव’ तथा मानहानी के दावें के लिए तैयार रहें। उन्होंने कहा कि दूसरों को बदनाम करना कांग्रेस की संस्कृति नहीं है, लेकिन यदि मंगल पांडे तथा उनसे सहमति रखने वाले भाजपा नेताओं ने मुख्यमंत्री की छवि पर कीचड़ उछालना बंद नहीं किया तो उन्हें इसके गंभीर परिणाम भुगतने को भी तैयार रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार अपने कार्यकाल के प्रथम दिन से ही मुख्यमंत्री के खिलाफ केन्द्रीय खुफियां एंजेंसियों का दुरूपयोग कर रही है, लेकिन उनके दुष्कारी उद्देश्य कभी भी पूरे नहीं होंगे।

मंत्रियों ने कहा कि मुख्यमंत्री से संबंधित मामले जिन पर मंगल पांडे आम लोगों में दुष्प्रचार कर रहे हैं, अभी न्यायालय में विचाराधीन है तथा शीघ्र इनके परिणाम सामने आ जाएंगे, लेकिन लोगों को इस संबंध में भ्रमित करने से मंगल पांडे की ओछी सोच प्रदर्शित होती है। उन्होंने कहा कि ऐसा प्रतीत होता है कि पांडे तो भाजपा का एक मोहरा मात्र है, जो छः बार मुख्यमंत्री रहे तथा देश के प्रसिद्ध नेता वीरभद्र सिंह के खिलाफ वक्तव्य जारी कर स्वयं को साबित करने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मंगल पांडे तथा राज्य के भाजपा नेता श्री वीरभद्र सिंह से भयभीत है तथा हर समय मुख्यमंत्री के खिलाफ कुछ न कुछ गलत बोलते रहते हैं।

उन्होंने पांडे को अपनी सीमा न लांघने का सुझाव देते हुए कहा कि यदि वह ऐसा करने से बाज नहीं आए तो हिमाचल प्रदेश के लोग आगामी विधानसभा चुनावों में भाजपा को धूल चटाएंगें तथा वीरभद्र सिंह सातवीं बार मुख्यमंत्री बनेंगे, जिससे भाजपा को प्रदेश में राजनीति का असल ज्ञान हो जाएगा।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *