गुड़िया के दोषियों को दी जाएगी कड़ी सज़ा : मुख्यमंत्री

शिक्षा की गुणवत्ता बनाए रखने के लिए अध्यापकों को करनी होगी कड़ी मेहनत

  • राज्य में शिक्षण संस्थानों के विस्तार से लड़कियों की साक्षरता दर आशातीत वृद्धि : मुख्यमंत्री

शिमला: मुख्यमंत्री ने रोहडू विधानसभा क्षेत्र के प्रवास के दौरान जांगला में आज 11 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले शिक्षण संस्थानों की आधारशिला रखने के साथ-साथ 7 करोड़ रुपये से निर्मित पेयजल योजनाओं तथा सड़क परियोजनाओं के लोकार्पण किए।

उन्होंने 2 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला जांगला के विज्ञान प्रयोगशाला भवन, 3.12 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला खशधार भवन, 4.37 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला मसली की आधारशिलाएं रखीं। उन्होंने 23 लाख रुपये की लागत से निर्मित किए गए वन विश्राम गृह खशधार तथा 2.05 करोड़ रुपये की लागत से ग्राम पंचायत शेखाल में निर्मित उठाऊ पेयजल योजना का शुभारंभ किया।

उन्होंने कहा कि सरकार ने सदैव शिक्षा को प्राथमिकता दी है तथा इस क्षेत्र के विस्तार के साथ-साथ शैक्षणिक संस्थानों को सुदृढ़ कर ग्रामीण क्षेत्रों के छात्रों को उनके घरद्वार के समीप उच्च शिक्षा सुविधा प्रदान की जा रही है।

उन्होंने कहा कि शैक्षणिक अधोसंरचना के विकास से प्रदेश की कन्याओं के शिक्षित होने की दर में भी वृद्धि हुई है। ग्रामीण क्षेत्रों की कन्याएं अब कॉलेज जा रही हैं तथा उल्लेखनीय प्रदर्शन कर समाज में और अधिक योगदान देने में सक्षम बन रही है।

उन्होंने कहा कि सरकार ने स्कूलों में विज्ञान खण्ड सुनिश्चित किए हैं ताकि छात्रों को प्रेक्टिकल करने तथा विज्ञान संकाय के मूलभूत सिद्धांतों में सक्षम होने में सहायता मिल सके। उन्होंने कहा कि पॉलिटेक्निक कॉलेज रोहडू के कन्या छात्रावास से छात्राओं को व्यावसायिक पाठ्यक्रम के दौरान आवास की सुविधा भी प्राप्त होगी। गंगटोली में लड़कों के लिए खेल छात्रावास से प्रदेश के प्रतिभाशाली व उभरते हुए खिलाड़ियों को प्रशिक्षण की सुविधा प्राप्त होगी।

मुख्यमंत्री ने पुजारली समरकोट में देवता महेश्वर पर 83 वर्षीय प्रसिद्ध लेखक केसी कैथ की पुस्तक का विमोचन किया। कैथ ने 8 उपन्यासों व 3 काव्य संग्रहों सहित कुल 22 पुस्तकें लिखी हैं। मुख्यमंत्री ने लेखक के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि उन्होंने सूबे की सांस्कृतिक तथा ऐतिहासिक विरासत को आगे ले जाने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है।  मुख्यमंत्री ने जांगला में पशु औषधालय तथा रावमापा जांगला को आदर्श स्कूल का दर्जा प्रदान करने की घोषणाएं की। उन्होंने लोक निर्माण विभाग को जांगला स्कूल के विज्ञान भवन के निर्माण का कार्य एक वर्ष में पूरा करने के निर्देश दिए।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *