मुख्यमंत्री ने अर्की विधानसभा क्षेत्र में लोकार्पित की 31 करोड़ की परियोजनाएं

मुख्यमंत्री ने अर्की विधानसभा क्षेत्र में लोकार्पित की 31 करोड़ की परियोजनाएं

  • 2.25 करोड़ की बहली-मोहल सड़क व अर्की में उप-कोषागार भवन की रखी आधारशिलाएं

 शिमला: मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने सोलन जिला के विधानसभा क्षेत्र अर्की के दौरे के दौरान आज 31 करोड़ रुपये की परियोजनाएं लोगों को समर्पित की। उन्होंने अर्की में 8.50 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित 50 बिस्तरों के अस्पताल भवन का लोकार्पण किया। अर्की में ही 3.15 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित आईटीआई भवन तथा 55 लाख की लागत से निर्मित राजस्व सदन का भी उद्घाटन किया।

मुख्यमंत्री ने भूमति में 45 लाख रुपये की लागत से निर्मित आयुर्वेद स्वास्थ्य केन्द्र भवन, पिपलुघाट में 22 लाख रुपये की लागत से बने उप- स्वास्थ्य केन्द्र भवन तथा अर्की में 17.56 लाख की लागत से निर्मित आयुर्वेद स्वास्थ्य केन्द्र भवन का भी लोकार्पण किया। वीरभद्र सिंह ने घनाघुघाट में 76 लाख तथा सुरजपुर में 23.35 लाख रुपये की लागत से निर्मित राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला भवनों के लोकार्पण किए।

उन्होंने अर्की में 76.33 लाख की लागत से निर्मित स्टॉफ क्वाटर्ज़, 50 लाख की लागत से निर्मित लुटरू महादेव सड़क, 1.60 करोड़ की लागत से निर्मित घनाघुघाट-कुन्नी-छिब्बर-सिमु सड़क तथा 70 लाख की लागत से निर्मित बाड़ीधार-चुरवाली-नाल-भैली-कल्याणघाटी सड़क को भी जनता को समर्पित किया। मुख्यमंत्री ने ग्राम पंचायत दसेरन में 850 की आबादी को लाभान्वित करने वाली 37.92 लाख रुपये की लागत से निर्मित उठाऊ जलापूर्ति योजना लेहलाना-नेरी तथा बुघार-चाखड़ में 39.53 लाख की लागत से निर्मित उठाऊ सिंचाई जलापूर्ति योजना का उद्घाटन किया।

उन्होंने 2.25 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाली बहली-मोहल सड़क की आधारशिला, कंधर-समत्याड़ी-पड़ियार सड़क पर 1.39 करोड़ की लागत से निर्मित होने वाले स्पैन, 35 लाख रुपये की लागत से डोडी गांव की सम्पर्क सड़क को पक्का करना, 20 लाख की लागत से सम्पर्क सड़क गाहर को पक्का करना तथा 78.63 लाख रुपये की लागत से मांजू से मानन सम्पर्क सड़क को पक्का करना और 4.49 करोड़ रुपये की लागत से घाघर से मांजू सड़क को पक्का करने की आधारशिलाएं रखीं। मुख्यमंत्री ने अर्की में 77.28 लाख रुपये की लागत से निर्मित होने वाले उप कोषागार भवन तथा ध्यानपुर में 30 लाख रुपये की लागत से निर्मित होने वाले बहुद्देशीय मैदान की भी आधारशिलाएं रखीं।

उन्होंने ग्राम पंचायत सेवड़ा-चंडी में 61.15 लाख रुपये की लागत से निर्मित होने वाली उठाऊ जलापूर्ति योजना धार-रूढाल के संवर्धन की आधारशिला रखी। इससे 1033 की आबादी लाभान्वित होगी। उन्होंने 88.76 लाख रुपये की लागत से उठाऊ जलापूर्ति योजना मांगल के मुरम्मत कार्य की आधारशिला रखी। यह योजना 800 की आबादी को लाभान्वित करेगी। मुख्यमंत्री ने नन्नू-मंती व मांजू के साथ लगते गांवों के लिये 25.40 लाख रुपये की लागत से उठाऊ जलापूर्ति योजना के मुरम्मत कार्य की आधारशिला भी रखी।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *