रेल नेटवर्क के विस्तार की दिशा में कदम बढ़ाकर अनुराग ने दिखाया दम: प्रो. धूमल

प्रदेश को चुनी हुई सरकार नहीं बल्कि माफिया संचालित कर रहे हैं : प्रो.धूमल

शिमला: नेता प्रतिपक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री प्रो. प्रेम कुमार धूमल ने कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह द्वारा हिमाचल को केन्द्र द्वारा दी गई आर्थिक सहायता व अनुदानो के तथ्यात्मक आंकड़ों के जारी करने से प्रदेश कांग्रेस सरकार द्वारा प्रदेश के साथ भेदभाव के झूठे दुष्प्रचार का भंडाफोड़ हुआ है। कांग्रेस के झूठ का पर्दाफाश होने से परेशान कांग्रेसी नेता अब जनता की आंखों में धूल झोंकने के लिए भ्रामक व अनर्गल बयाजबाजी कर रहे हैं जो निंदनीय है।

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने प्रदेश कांग्रेस सरकार व नेतृत्व के खिलाफ जो भी टिप्पणियां की है वह पूर्णरूप से तथ्यात्मक और आंकड़ो साहित है। उन्होनें स्पष्ट किया है कि वर्तमान एनडीए सरकार ने तो केवल अपने कर्तव्यों का निर्वहन करते हुए उसी कानूनी कार्यवाही को आगे बढ़ाया है जो पूर्व कांग्रेसनीत यूपीए सरकार ने मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के खिलाफ आय से अधिक सम्पति के मामले में शुरू की थी। ऐसे में पूर्व कांग्रेस सरकार द्वारा शुरू की गई कानूनी कार्यवाही के लिए भाजपा को दोष देना सरासर गलत है।

प्रो. धूमल ने कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के अनुसार विभिन्न विभागों को केन्द्र से मिलने वाली सहायता राशि में चार गुना वृद्धि हुई है। बावजूद इसके कांग्रेस ने हिमाचल को कर्जों के मकड़जाल में उलझाकर कर रख दिया है। केन्द्रीय राशि के दुरूपयोग और प्रदेश सरकार द्वारा समय पर विभिन्न योजनाओं की डीपीआर तैयार न करने से विकास कार्यों के ठप्प पड़ने जैसे गंभीर आरोप प्रदेश सरकार पर लगे हैं और प्रदेश सरकार द्वारा इन आरोपों का जवाब न दिए जाने से यह स्पष्ट हो गया है कि कांग्रेस ने इन आरोपों को स्वीकार कर लिया है।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष द्वारा प्रदेश में माफिया राज होने की बात कहकर केवल सत्य को ही आईना दिखाया है। प्रदेश का बच्चा-बच्चा जानता है कि प्रदेश को चुनी हुई सरकार नहीं बल्कि माफिया संचालित कर रहे हैं। भू-माफिया, वन माफिया, खनन माफिया, ट्रांसफर माफिया, ड्रग माफिया ने मिलकर देवभूमि को बदनाम करके रख दिया है। माफियाओं को संरक्षण देने की सरकार की नीति के चलते अब तो सरकारी अधिकारियों की गाड़ियों से भी चिट्टा बरामद होने लगा है।

 

प्रो. प्रेम कुमार धूमल ने कहा कि एक भ्रष्ट नेतृत्व को ढोना व संरक्षण देना कांग्रेस सरकार की मजबूरी हो सकती है, प्रदेश की जनता की नहीं है। इसलिए कांग्रेसी मंत्रियों को भी चाहिए की व सुनिश्चित करें कि उनके नाम से कुछ अधिकारियों द्वारा जारी किए गए अनर्गल बयानो से उनकी छवि भी भ्रष्टाचार समर्थक नेताओं की ही बन रही है।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *