गुड़िया के दोषियों को दी जाएगी कड़ी सज़ा : मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ने की जय नगर में कालेज व बलेरा व सौर में आईटीआई की घोषणा

  • भ्यूंखड़ी में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र तथा मज्याट में आयुर्वेदिक औषधालय की घोषणा

शिमला: मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने आज सोलन जिला के अर्की विधानसभा क्षेत्र के जय नगर में डिग्री कालेज तथा ग्राम पंचायत बलेरा व सौर में आईटीआई खोलने की घोषणाएं की। उन्होंने बलेरा हैलीपैड के समीप बलेरा में खेल मैदान के निर्माण की भी घोषणा की। मुख्यमंत्री ने ये घोषणाएं मटेरनी में एक विशाल जनसभा को सम्बोधित करते हुए की। उन्होंने ग्राम पंचायत देवरा के मज्याट तथा शीलघाट में आयुर्वेदिक औषधालय खोलने की घोषणाएं की।

उन्होंने सरयांज के भ्यूंखड़ी में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र तथा बलेरा, मलौन व भूमती ददाल में फोरेस्ट गैंग हट खोलने की भी घोषणा की। उन्होंने गम्भर खड्ड से सनोग-बघर के लिए जलापूर्ति योजना के निर्माण तथा राजकीय प्राथमिक पाठशाला पल्याड़ को राजकीय माध्यमिक पाठशाला में स्तरोन्नत करने की घोषणाएं की। उन्होंने ग्राम पंचायत लाग के पंजाल में खेल मैदान तथा राजकीय उच्च पाठशाला मनलोग-कलां को राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला में स्तरोन्नत करने की घोषणाएं की।

वीरभद्र सिंह ने राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला बनी मटेरनी तथा पंजाल को सांस्कृतिक गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए 10-10 हजार रुपये देने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने बलेरा में हैलीपैड के निर्माण के लिए लोगों द्वारा किए गए प्रयासों पर उन्हें बधाई देते हुए कहा कि यह हैलीपैड मेलों के आयोजन तथा खेल मैदान के तौर पर भी प्रयोग किया जा सकता है।

उन्होंने कहा कि सरकार के पास उपरोक्त सभी योजनाओं व विकासात्मक परियोजनाओं के लिए पर्याप्त निधि उपलब्ध है और आज की गई घोषणाओं व शिलान्यासों के लिये धनराशि का पहले ही प्रावधान किया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस समूचे हिमाचल की समान रूप से प्रगति व विकास की ओर अग्रसर है तथा सभी क्षेत्रों के समान विकास पर ध्यान दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हाल ही में राज्य सरकार ने शिक्षित युवाओं के लिए बेरोजगारी भत्ते की घोषणा की है, जिसके अन्तर्गत बेरोजगार युवाओं को एक हजार रुपये महीना तथा शारीरिक रूप से अक्षम को 1500 रुपये मासिक भत्ता प्रदान किया जाएगा। इसके अतिरिक्त, कौशल विकास भत्ते के अन्तर्गत प्रदेश के युवाओं को प्रशिक्षित कर उन्हें रोजगार उपलब्ध करवाने के लिए 500 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।

वीरभद्र सिंह ने कहा कि शिक्षा क्षेत्र को सुदृढ़ करने के लिए राज्य में 122 डिग्री कॉलेज खोले गए हैं। उन्होंने कहा कि सरकार पूरे समाज को शिक्षित करने और विशेषकर लड़कियों को गुणात्मक शिक्षा सुनिश्चित बनाने के प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि राज्य में खोले गए सभी महाविद्यालयों और पाठशालाओं में छात्र-छात्राएं शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। लड़कियां को अपने घरों के समीप उच्च शिक्षा ग्रहण करने का अवसर प्राप्त हुआ है। उन्होंने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में नई क्रांति आई है और लोगों को अब यह आभास हो चुका है कि लड़कियों को शिक्षित करना बेहद जरूरी है। मुख्यमंत्री ने कहा जहां तक स्वास्थ्य क्षेत्र का सम्बन्ध है, राज्य में मौजूदा दो मेडिकल काॅलेजों के अलावा तीन नए मेडिकल काॅलेज खोले गए है। हमीरपुर मेडिकल कॉलेज के संचालन के लिए वन स्वीकृति की प्रतीक्षा की जा रही है। इसके अतिरिक्त, मण्डी जिले के नेरचैक में मेडिकल कॉलेज को शीघ्र क्रियाशील बनाया जाएगा। बिलासपुर में अखिल भारतीय चिकित्सा संस्थान (एम्स) की स्थापना की जा रही है।

उन्होंने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार के कार्यकाल के दौरान राज्य में 105 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र खोले गए, जबकि 35 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों को स्तरोन्नत कर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बनाया गया है। इसके अतिरिक्त 32 सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों को स्तरोन्नत कर नागरिक अस्पताल का दर्जा दिया गया है।

पशुपालन बोर्ड के सदस्य राजेन्द्र ठाकुर ने मुख्यमंत्री से आगामी विधानसभा चुनाव अर्की से लड़ने का खुले तौर पर निमंत्रण दिया। उन्होंने अर्की के सभी कांग्रेस कार्यकर्ताओं से एकजुट रहने की अपील की। उन्होंने कहा कि अर्की की जनता चुनाव में हाली-लॉज से उम्मीदवार की इच्छुक है। उन्होंने लोगों से अफवाहों से दूर रहने तथा उनके विधानसभा क्षेत्र में पार्टी के भीतर एक दूसरे की टांग खिचांई से बचने का भी आग्रह किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के विरूद्ध झूठे मामलों के बावजूद यह निश्चित है कि वह इन सभी मामलों में पाक साफ निकलेंगे।

उन्होंने बलेरा में आईटीआई खोलने तथा जयनगर में डिग्री महाविद्यालय खोलने का आग्रह किया। उन्होंने सौर पंचायत में आईटीआई खोलने तथा ग्राम पंचायत देवरा के मजयाट में आयुर्वेदिक औषधालय खोलने का भी आग्रह किया। उन्होंने क्षेत्र में हुए विकास कार्यों का श्रेय मुख्यमंत्री को दिया और मुख्यमंत्री का क्षेत्र में 65 करोड़ रुपये की परियोजनाओं के लोकार्पण के लिए आभार व्यक्त किया। उन्होंने क्षेत्र में हो रहे विकास कार्यों की भी जानकारी दी। ग्राम पंचायत मटेरनी की प्रधान प्रेम लता ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया तथा बलेरा पंचायत में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान खोलने का आग्रह किया।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *