विधानसभा चुनावों के दृष्टिगत झूठे आरोप लगाना और व्यक्तिगत आलोचना करना भाजपा की सोची-समझी रणनीति : वीरभद्र सिंह

विधानसभा चुनावों के दृष्टिगत झूठे आरोप लगाना और व्यक्तिगत आलोचना करना भाजपा की सोची-समझी रणनीति : वीरभद्र सिंह

  • डलहौजी विधानसभा क्षेत्र के भलेई व तेलका में खुलेंगे कॉलेजः मुख्यमंत्री
  • 35 करोड़ रुपये की जलापूर्ति योजनाओं का शिलान्यास
डलहौजी विधानसभा क्षेत्र के भलेई व तेलका में खुलेंगे कॉलेजः मुख्यमंत्री

डलहौजी विधानसभा क्षेत्र के भलेई व तेलका में खुलेंगे कॉलेजः मुख्यमंत्री

शिमला: मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने आज चम्बा जिला के डलहौजी विधानसभा क्षेत्र के सलूणी तहसील के ठाकरीमटटी में एक विशाल जनसभा को सम्बोधित करते हुए भलेई और तेलका में राजकीय महाविद्यालय खोलने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि सलूणी तहसील के दूर-दराज क्षेत्रों में विशेषकर लड़कियों की संख्या को ध्यान में रखते हुए इन कालेजों को खोला जा रहा है।

इस अवसर पर वन मंत्री ठाकुर सिंह भरमौरी, राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अध्यक्ष कुलदीप सिंह पठानिया, जिला कांग्रेस समिति के अध्यक्ष सुरेन्द्र भारद्धाज, जिला परिषद अध्यक्ष धर्म सिंह पठानिया, एपीएमसी चम्बा के अध्यक्ष नीरज नययर, खण्ड कांग्रेस समिति अध्यक्ष राज कुमार ठाकुर, भलेई माता ट्रस्ट के अध्यक्ष कमल ठाकुर, खण्ड युवा कांग्रेस के अध्यक्ष अमित शर्मा सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इन दो कालेजों के खुलने से अब प्रदेश में कालेजों की संख्या 121 हो जाएगी। उन्होंने चम्बा जिला के सलूणी खण्ड को पिछड़ा क्षेत्र घोषित करने का आश्वासन भी दिया। वीरभद्र सिंह ने कहा कि इस क्षेत्र की विधायिका आशा कुमारी सदैव अपने विधानसभा क्षेत्र के लिए सोचती रहती हैं और क्षेत्र के विकास के लिए हर संभव प्रयास करती हैं। वह एक दूरदर्शी नेता हैं और प्रदेश के लोगों का एक समान विकास करने में विश्वास रखती हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के लोगों के साथ उनका संबंध राजनीतिक नहीं है बल्कि वह मन से उनके साथ जुड़े हुए हैं। उन्होंने लोगों को आगाह किया कि भाजपा के झूठे वायदों पर विश्वास न करें, क्योंकि भाजपा नेता हमेशा बांटने की नीति पर विश्वास करते हैं और अगर चाहें भी, तब भी सच्चाई के रास्ते पर नहीं चल सकते हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा क्षेत्रवाद, जाति और धर्म की राजनीति करती है और प्रदेश व प्रदेशवासियों के कल्याण का कभी नहीं सोचती।

वीरभद्र सिंह ने कहा कि आज मुस्लमान की जनसंख्या पाकिस्तान से ज्यादा भारत में है। भाजपा नेताओं को क्षेत्रवाद और जातिवाद के आधार पर लोगों की आलोचना करने का कोई अधिकार नहीं है। भारत एक धर्मनिरपेक्ष देश है और हमेशा रहेगा। उन्होंने कहा कि लोगों ने अपने प्राण न्यौछावर कर आजादी हासिल की है तथा लोगों को छोटी सोच वाले नेताओं के बहकावे में नहीं आना चाहिए।

उन्होंने कहा कि केन्द्रीय नेतृत्व के साथ मिलकर मिलीभगत से प्रदेश भाजपा के नेता मेरे विरुद्ध तीन जांच एजेंसियों से एक मामले ही की जांच करवा रहे हैं। जब प्रेम कुमार धूमल मुख्यमंत्री थे, उन्होंने दो बार मेरे खिलाफ झूठे मामले बनाए जिनका सामना अदालत में किया और मुझे बाई इज्जत बरी किया किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश में होने जा रहे विधानसभा चुनावों के दृष्टिगत झूठे आरोप लगाना और उनकी व्यक्तिगत आलोचना करना भाजपा की सोची-समझी रणनीति रही है।

इससे पूर्व उन्होंने 34.69 करोड़ रुपये की लागत से सलूनी-मंजीर-सुन्दल-दियोर जलापूर्ति संवर्धन योजना का शिलान्यास किया, जिससे 21 पंचायतों के 42 हजार लोग लाभान्वित होंगे। इस योजना से सलूनी, सिंघाधार, बयाना, मंजीर, सुन्दला, पुखरी, खराल, सियुला, लिगा, ठाकरीमटटी, सलवान, दियूर, मंजाली, दांद, लनोट और सात अन्य पंचायतों के लोग लाभान्वित होंगे। उन्होंने भलेई माता के समीप ठाकरीमटटी में आयुर्वेदिक औषधालय का लोकार्पण भी किया। वीरभद्र सिंह ने 1.40 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला भलेई के विज्ञान खण्ड भवन और सलूनी तहसील के भलेई में 1.86 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले लोक निर्माण विभाग के विश्राम गृह की आधारशिला रखी। इस विश्राम गृह के बनने से मन्दिर में आने वाले श्रद्धालु लाभान्वित होंगे। मुख्यमंत्री ने बारंगल में 78 लाख रुपये की लागत से निर्मित प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र का लोकार्पण किया और बाथड़ी में 5.93 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र की आधारशिला रखी।

इससे पूर्व, वीरभद्र सिंह ने मंजीर में 35 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाली पेयजल आपूर्ति योजना की आधारशिला रखी और मंजीर में कुछ स्कूलों के स्तरोन्ययन को अपनी स्वीकृति प्रदान की। इन स्कूलों में ग्राम पंचायत सूरी और ग्राम पंचायत बदका की भेदोई राजकीय प्राथमिक पाठशालाओं को माध्यमिक पाठशालाओं में, दिघाई ग्राम पंचायत की बंधार, सुरी ग्राम पंचायत की चकोली, ग्राम पंचायत की सनोह की भदरोह, ग्राम पंचायत करवाल की करवाल, ग्राम पंचायत पुखरी की पुखरी, ग्राम पंचायत भलेई की कंड़ी राजकीय माध्यमिक पाठशालाओं को उच्च पाठशालाओं, ग्राम पंचायत पिछला दयोर की ग्रोहन गुलेल उच्च पाठशाला को राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशलाओं में स्तरोन्नत करने की घोषणा की।

उन्होंने ग्राम पंचायत खरोथी की प्राथमिक पाठशाला खरोथी, ग्राम पंचायत किहार की धधुंजा, ग्राम पंचायत भदेला की हंगोई और ग्राम पंचायत करवाल की काहला में नई प्राथमिक पाठशालाएं खोलने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने भलेई माता मन्दिर में पूजा-अर्चना की।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *