प्रदेश में युवाओं को मजबूती के साथ एक मंच पर लाना उद्देश्य : विक्रमादित्य सिंह

प्रदेश में युवाओं को मजबूती के साथ एक मंच पर लाना उद्देश्य : विक्रमादित्य सिंह

शिमला: हिमाचल प्रदेश खेल सांस्कृतिक एवं पर्यावरण संघ के अध्यक्ष विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि उनका उद्देश्य प्रदेश में युवाओं को मजबूती के साथ एक मंच पर लाने का है।

सुन्नी में क्रिकेट मैच का आयोजन इसकी ओर एक कदम है। क्रिकेट के इस मैच में 216 टीमों के 2808 खिलाड़ियों का भाग लेना अपने आप में एक रिकार्ड है। यहां सभी खिलाड़ी शिमला ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र से सम्बन्ध रखते हैं। सुन्नी में आज शिमला ग्रामीण क्रिकेट संघ के तत्वावधान में शुरू हुई इस प्रतियोगिता के शुभारम्भ के अवसर पर विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि प्रदेश ही नहीं संभवतः देश के इतिहास में यह पहला मौका होगा, जब किसी क्षेत्र में इतनी बड़ी संख्या में क्रिकेट मैच के आयोजन में खिलाड़ी भाग ले रहे हों।

उन्होंने कहा कि यह कोई राजनैतिक आयोजन न होकर सभी विधारधारा के लोगों का एक विशाल मंच है, जहां टीम वर्क के तौर पर प्रतिभागी अपनी प्रतिभा को प्रदर्शित करेंगे।

विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि 28 दिनों तक चलने वाले इस आयोजन में 30 अप्रैल, 2017 को प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह विजेताओं को पुरस्कृत करेंगे। इस दौरान भाग लेने वाले सभी टीमों को क्रिकेट किटें भी वितरित की जाएंगी, जबकि प्रथम, द्वितीय व तृतीय आने वाले टीमों को नगद राशि के साथ पुरस्कृत किया जाएगा। इस अवसर पर उनके साथ जिला परिषद अध्यक्षा धर्मीला हरनोट, पूर्व विधायक सोहन लाल, ब्लॉक अध्यक्ष चन्द्रशेखर शर्मा, सोलन जिला के डीसीसी अध्यक्ष राहुल ठाकुर, सुरेन्द्र सेठी व एचआरटीसी के निदेशक मण्डल के सदस्य वेद प्रकाश शर्मा और अन्य नेता भी मौजूद थे।

इससे पूर्व, इस आयोजन के अध्यक्ष प्रदीप ने सभी अतिथियों का स्वागत करते हुए इस आयोजन को ऐतिहासिक करार दिया। विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि शिमला ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र में विकास की नई योजनाएं शुरू की गई है। उनहोंने कहा कि सुन्नी क्षेत्र के विकास के लिए कौल डैम के लिए 100 करोड़ रुपये की विकास योजना तैयार की है, जिसके तहत इस क्षेत्र को पर्यटन की दृष्टि से विकसित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इसमें ज्यादा से ज्यादा स्थानीय लोगों को रोजगार मिले यह सुनिश्चित किया जाएगा।

विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह का चुनाव क्षेत्र होने की वजह से इस क्षेत्र का बड़ा महत्व है। उन्होंने लोगों का आह्वान किया कि क्षेत्र की समस्याओं के लिए उन्हें किसी के माध्यम से नहीं अपितु सीधे मुख्यमंत्री के पास आना चाहिए। उन्होंने लोगों को धर्म व क्षेत्र के आधार पर बांटने वाली तकतों के प्रति आगाह करते हुए कहा कि सभी युवाओं को मजबूती के साथ एक मंच पर खड़ा होना होगा और इन ताकतों को मुंह तोड़ जबाव देना होगा।

विक्रमादित्य ने कहा कि आधुनिक युग में सोशल मीडिया का एक महत्वपूर्ण स्थान बन गया है। लोग अपनी शिकायतें व सुझाव इस माध्यम के द्वारा सरकार को भेजते हैं और सरकार इसका पूरा संज्ञान लेती है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के नेतृत्व में प्रदेश का सर्वांगीण विकास हुआ है और आज हर क्षेत्र सड़क और स्वास्थ्य से जुड़ा है।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *