नाम सुझाए और ईनाम पाएं

कर्मचारी लोगों के प्रति सहयोगात्मक रवैया अपनाकर उनके कार्यों को दें प्राथमिकता : उपायुक्त

  • कर्मचारी सूचना प्रौद्योगिकी को अपनाकर अपनी सेवाएं प्रदान करें

शिमला: कर्मचारी अपने कार्य में सूचना प्रौद्योगिकी को अधिक से अधिक अपनाकर लोगों को उत्कृष्ट एवं त्वरित सेवा प्रदान करने में अपना सहयोग दें। यह बात आज उपायुक्त शिमला रोहन चंद ठाकुर ने रोजना हॉल में हिमाचल प्रदेश लोक प्रशासन संस्थान द्वारा आयोजित सेवोत्तम कार्यशाला के उदघाटन अवसर पर दी।

उन्होंने कहा कि कर्मचारियों की सेवा व्यक्ति उन्मुख न होकर व्यवस्था उन्मुख होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि सेवाओं में गुणवत्ता लाने के लिए परस्पर सहयोग व अधिनस्थ कर्मचारी को मार्ग दर्शन प्रदान करना आवश्यक है।

उन्होंने कहा कि अपने अधिनस्थ कर्मचारी को सशक्त करने पर कार्य के प्रति तत्परता, जिम्मेदारी और समन्वय की भावना और अधिक बढ़ेगी।

उन्होंने कहा कि कर्मचारी लोगों के प्रति सहयोगात्मक रवैया अपनाकर उनके कार्यों को प्राथमिकता दें। उन्होंने कहा कि दो दिन तक चलने वाली इस कार्यशाला में कर्मचारियों को सिटिजन चार्टर के तहत बेहतर सेवाएं प्रदान करने के लिए जानकारी व जागरूकता प्रदान की जाएगी। उन्होंने कहा कि ऐसी कार्यशालाओं व प्रशिक्षण कार्यक्रमों से जहां कर्मचारियों के कार्यों में दक्षता आती है, वहीं परस्पर संवाद कायम होने से जानकारी का आदान-प्रदान भी होता है।

कार्यशाला में हिमाचल प्रदेश लोक प्रशासन संस्थान के सलाहकार श्री एचके शर्मा ने सेवोत्तम कार्यक्रम के तहत विभिन्न पहलुओं पर कर्मचारियों को बेहतर सेवाएं प्रदान करने के लिए जानकारी दी।

कार्यशाला में जिला से संबंधित विभिन्न विभागों के अधिकारियों और कर्मचारियों ने भाग लिया।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *