आत्मनिर्भर भारत पैकेज से कृषि संबद्ध क्षेत्र को मिली नई गति : अनुराग

विदेश जाना अब हमीरपुर के लोगों के लिए होगा आसान, हमीरपुर में खुलेगा पासपोर्ट सेवा केन्द्र

शिमला : अनुराग ठाकुर ने जून, 2016 में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मिलकर उनसे हमीरपुर, हिमाचल प्रदेश में पासपोर्ट सेवा बनवाने का अनुरोध किया था। सुषमा स्वराज ने सकारात्मक रवैया दिखाते हुए इसके लिए आश्वासन भी दिया था और अब फरवरी, 2017 में हमीरपुर तथा पालमपुर के लिए पासपोर्ट सेवा केन्द्र खोले जाने के लिए मंजूरी प्रदान कर दी गई है। यह पासपोर्ट सेवा केन्द्र हमीरपुर के मुख्य डाकघर में बनेगा।

विकास के बारे में बात करते अनुराग ठाकुर ने यह बताया कि ‘‘मेरे अनुरोध पर विचार करने और हमीरपुर के लिए पासपोर्ट सेवा केन्द्र खोले जाने के लिए मंजूरी देने के लिए सुषमा स्वराज जी का हृदय से आभार व्यक्त करता हूं। इस पासपोर्ट केन्द्र से क्षेत्रीय पासपोर्ट कार्यालय, शिमला की अगुवाई में एक माह के भीतर सेवाएं प्राप्त होनी शुरू हो जाएंगी।‘‘

‘‘हमीरपुर के पासपोर्ट सेवा केन्द्र से 12 जिलों में 8 जिलों के लोगों का लाभ होगा। अब उन्हें केवल पासपोर्ट बनवाने के लिएशिमला नहीं जाना पड़ेगा क्योंकि उनके आवेदन और सारी कागजी कार्यवाही अब इस डाकघर पासपोर्ट सेवा केन्द्र में ही पूरी कर ली जाएगी।‘‘

‘‘पासपोर्ट सेवा केन्द्र के लिए मंजूरी के संबंध में सुशमा स्वराज जी से मैंने अपना अनुरोध हिमाचल प्रदेश के 12 में से 8 जिलों के दल लोगों की इस कठिनाई के निवारण के लिए किया था जो शिमला से काफी दूर रहते हैं तथा जिन्हें अपने पासपोर्ट से संबंधित औपचारिकताओं को पूरा करने के लिए शिमला आना पड़ता है। इससे शिमला के पासपोर्ट कार्यालय में काम करने वाले कर्मचारियों का काम भी बढ़ जाता है। परन्तु अब, इस सेवा केन्द्र से न केवल भीड़ भाड़ कम होगी बल्कि यह काम अब सुचारू हो जाएगा जिससे लोगों और कर्मचारियों, दोनों, को इससे लाभ प्राप्त होंगे।

आवेदक अब पासपोर्ट सेवा पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन जमा करवा सकते हैं और अपनी सुविधा और आवश्यकताओं के अनुसार डाकघर पासपोर्ट सेवा केन्द्र का चयन कर सकते हैं तथा उसके बाद औपचारिकताओं को पूरा करने के लिए डाकघर पासपोर्ट सेवा केन्द्र जा सकते हैं। अगस्त, 2016 में हमीरपुर में जब पासपोर्ट कैम्प लगा था तो आसपास के जिलों के काफी लोगों ने इसका लाभ उठाया था जिससे पासपोर्ट सेवा केन्द्र खोले जाने की जरूरत को दर्शाया था।

उन्होंने कहा कि नरेन्द्र मोदी की दूरदर्शिता एवं विकास की ओर अभिमुख दृश्टिकोण से अब सरकार द्वारा प्राप्त की जा रही उपलब्धियों का अनुमान इस तथ्य को ध्यान में रखकर किया जा सकता है कि सरकार ने 56 मुख्य डाकघरों में अब डाकघर पासपोर्ट सेवा केन्द्र खोले जाने का निर्णय है।

एक बार फिर अपने प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी तथा सुषमा स्वराज को उनके समर्थ नेतृत्व तथा हिमाचल प्रदेश के निवासियों के लिए किए जा रहे विकास कार्यों के लिए मैं धन्यवाद देना चाहता हूं।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *