वीरभद्र सिंह की चुटकी समझ नहीं आ रहा कि स्थानीय विधायक जंडोर में कॉलेज खोलने का क्यों कर रहे विरोध

वीरभद्र सिंह की चुटकी, समझ नहीं आ रहा कि स्थानीय विधायक जंडोर में कॉलेज खोलने का क्यों कर रहे विरोध

  • मुख्यमंत्री ने की परागपुर में उप-तहसील तथा डाडासीबा में अग्निशमन उप-केन्द्र खोलने की घोषणा

 शिमला: मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने आज कांगड़ा ज़िला के जसवां परागपुर विधानसभा क्षेत्र के परागपुर में उप-तहसील तथा डाडासीबा में अग्निशमन उप-केन्द्र खोलने की घोषणा की। उन्होंने जंबल बेही उठाऊ पेयजल योजना के सम्वर्धन व विस्तार तथा बाड़ी सांदा उठाऊ पेयजल योजना के प्रथम व द्वितीय चरण की भी आधारशिला रखी। मुख्यमंत्री ने हाल ही में स्तरोन्नत प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र कोटला का भी लोकार्पण किया। उन्होंने 1.35 करोड़ रुपये की लागत से कोटला खड्ड पर निर्मित होने वाले पुल तथा गुमी खड्ड पर 1.56 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले पुल की भी आधारशिला रखी। मुख्यमंत्री ने राजकीय महाविद्यालय जंडोर के भवन की भी आधारशिला रखी।

इससे पूर्व, मुख्यमंत्री ने ज्वालामुखी में 5 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाली बहुमंजिला पार्किंग की आधारशिला रखी। उन्होंने वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला ज्वालामुखी के विज्ञान खण्ड का भी लोकार्पण किया। उन्होंने 1.90 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाली शिवाजी-कटयालु सड़क का भी भूमि पूजन किया। मुख्यमंत्री ने डाडासीबा में विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि वे कभी भी राजनीति में आने के इच्छुक नहीं थे, परन्तु पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू तथा इंदिरा गांधी ने उन्हें हिमाचल प्रदेश के लोगों की सेवा करने का दायित्व सौंपा था। उन्होंने कहा कि वे पेशेनर राजनीतिज्ञ नहीं बल्कि प्रदेश के लोगों की सेवा करने वाले सामाजिक कार्यकर्ता है।

उन्होंने कहा कि व्यक्ति को समर्पण व व्यवसाय के प्रति वचनबद्धता के साथ कार्य करना चाहिए। उन्होंने कहा कि राजनीति में कई आए और गए पर इतिहास में उनका कोई जिक्र नहीं है। परन्तु कुछ नेताओं ने इतिहास बनाया और आज भी उनको उनकी सेवाओं के लिए याद किया जाता है। डॉ. वाईएस परमार, स्वर्गीय जवाहर लाल नेहरू तथा श्रीमती इंदिरा गांधी उन लोगों में शामिल है, जिन्होंने प्रदेश के लिए बहुत कुछ किया।

वीरभद्र सिंह ने चुटकी लेते हुए कहा कि वे समझ नहीं पा रहे कि स्थानीय विधायक विक्रम ठाकुर जंडोर में कॉलेज खोलने का विरोध क्यों कर रहे हैं। वे भाजपा सरकार के समक्ष उनके क्षेत्र में कॉलेज खोलने के मामले को आगे नहीं बढ़ा सके। इसके बावजूद भाजपा विधायक क्षेत्र में उत्तेजना पैदा करने में विश्वास रखते हैं, जबकि उन्हें क्षेत्र के लोगों की मांगें उठानी चाहिए थी। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य किया है और सरकार प्रदेश के सभी बच्चों को गुणात्त्मक शिक्षा प्रदान करने के प्रति वचनबद्ध है। उन्होंने कहा कि गत चार वर्षों के दौरान प्रदेश में 1329 नए स्कूल खोले व स्तरोन्नत किए गए। इसके अतिरिक्त प्रदेश के दूर-दराज क्षेत्र में इस दौरान 45 नए कॉलेज खोले गए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान में प्रदेश में 37 हज़ार किलोमीटर सड़कों का नेटवर्क है। उन्होंने कहा कि वे चाहते कि प्रदेश के सभी गांवों को मोटर योग्य सड़क से जोड़ा जाए। गत चार वर्षों के दौरान प्रदेश में 1721 किलोमीटर नई सड़कों तथा 180 पुलों का निर्माण किया गया है। वीरभद्र सिंह ने कहा कि प्रदेश में 168 से अधिक स्वास्थ्य संस्थानों के अतिरिक्त चम्बा, हमीरपुर तथा नाहन में मेडिकल कॉलेज खोले गए हैं, जिसमें से नाहन स्थित मेडिकल कॉलेज में कार्य आरम्भ कर दिया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने मण्डी ज़िला के नेर चौक स्थित ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज को भी अपने अधीन कर लिया है तथा सिरमौर ज़िला के धौलाकुआं में भारतीय प्रबंधन संस्थान खोला गया है।

कर्मचारी कल्याण बोर्ड के उपाध्यक्ष सुरेन्द्र मनकोटिया ने मुख्यमंत्री को सम्मानित किया और मुख्यमंत्री से उनके विधानसभा क्षेत्र के दूर-दराज इलाकों की मांगें पूरी करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के जंडोर, डाडासीबा तथा रक्कड़ में तीन महाविद्यालय खोलने के लिए हमेशा ऋणी रहेंगे। उन्होंने श्री विक्रम ठाकुर की कॉलेज खोलने का विरोध करने के लिए आलोचना की तथा कहा कि वे नहीं चाहते है कि क्षेत्र के युवा उच्च शिक्षा प्राप्त कर सके। इस दौरान क्षेत्र के विभिन्न महिला व युवक मण्डलों, पैंशर्न संघों के सदस्य तथा आशा कार्यकर्ता ने भी मुख्यमंत्री का स्वागत किया।

विधायक संजय रत्न, राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के उपाध्यक्ष राजेन्द्र राणा, ब्रिगेडियर राजेन्द्र राणा, हिमाचल प्रदेश शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष बलबीर टेगटा, पूर्व विधायक योगराज, ट्रेडर कल्याण बोर्ड के निदेशक मण्डल के सदस्य संदीप ओहरी, विभिन्न पंचायतों के प्रतिनिधि व क्षेत्र के महिला व युवक मण्डलों के पदाधिकारी भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *