सर्दियों में "फटे व सूखे होंठो "की समस्या से यूँ पाएं छुटकारा

सर्दियों में “फटे व सूखे होंठो” की समस्या से यूँ पाएं छुटकारा

घी में जरा सा नमक मिलाकर सुबह शाम होठो पर और नाभि में लगाने से होंठ फटना होता है बंद

घी में जरा सा नमक मिलाकर सुबह शाम होठो पर और नाभि में लगाने से होंठ फटना होता है बंद

आजकल सर्दियों के मौसम में होठों के सूखेपन और फटने की काफी समस्याएँ हो जातीं हैं। इस बार हम अपने “स्वास्थ्य” पर आपको सर्दियों में होंठो की देखभाल के बारे में विस्तार से जानकारी देने जा रहे हैं। रोजाना सर्दियों में भी कम से कम 10-12 गिलास पानी पिएं। सर्दियों में बहुत ज्यादा पानी पियें। पानी आपको अंदर से नम रखता है। नम शरीर में होंठ सूखने की संभावना कम होती है।

  • सर्दी के मौसम में चेहरे की सफाई का विशेष ध्यान रखें।
  • सुबह तथा रात को सोते समय नाभि को साफ करके उसमे गुनगुना सरसों का तेल लगाने से होंठ मुलायम होते है और फटने बंद हो जाते है।
  • सर्दी के  कारण फटे होंठ ठीक करने के लिए दूध की मलाई में बारीक हल्दी पाउडर मिलाकर सुबह शाम हल्के हाथ से थोड़ी मालिश होठो का फटना मिट जाता है।
  • बादाम का तेल रोजाना सुबह शाम होठो पर लगाने से होंठ फटना ठीक होता है।
  • होंठ काले और सूखे हो गए हों तो गुलाब के फूल की ताजा पत्तियां पीस कर इसमें ग्लिसरीन मिला लें। लिपस्टिक का उपयोग बंद करके इसे नियमित रूप से होठो पर लगाने से होंठ सुन्दर गुलाबी हो जाते है।
  • छाछ से निकले मक्खन में केसर मिलाकर होठों पर लगाने से होंठ गुलाबी और मुलायम होते है।
  • घी में जरा सा नमक मिलाकर सुबह शाम होठो पर और नाभि में लगाने से होंठ फटना बंद होता है।
  • सरसो के तेल में बारीक हल्दी पाउडर मिलाकर सुबह शाम होठों पर और नाभि में लगाने से होंठ फटने बंद होते है।
  • सूखे होंठो को ना चाटें। ऐसा करने से होंठ कुछ समय के लिए नम हो सकते हैं पर बाद में सूख जायेंगे। इसलिए, सूखे और फटे होठों पर लिप बाम लगायें।
  •  पिंक लिप्स, होठों से मृत त्वचा को हटाने के लिए स्क्रब का प्रयोग करें।. रोज़ 4-5  दिन के लिए फटे होठ पर शहद लगायें। अन्यथा शहद के साथ ग्लिसरीन की कुछ बूंदे मिला कर लगाएं। ग्लिसरीन होठों को नम रखता है और फटे होठों को रोकने की कोशिश करता है।
  • गुलाब की पंखुड़ियाँ लें और दूध या ग्लिसरीन में सोख कर रखें। बाद में उसे बाहर निकालें और पीस लें और होठों पर लगायें। सूखे फटे होंठों का यह उत्तम इलाज है।
  • नारियल तेल फटे होंठों का इलाज करने में मदद करता है। सर्दियों में कई बार होठों पर नारियल तेल लगायें। यह फटे होंठों का इलाज करने में मदद करता है।
  • लिप्स टिप्स, सर्दियों में सजावटी लिपस्टिक के उपयोग से बचने की कोशिश करें। इस प्रकार की लिपस्टिक होंठों की त्वचा के छिद्र को बंद कर उन्हे सूखे बनाती है। लिपस्टिक लगाने से पहले पौष्टिक लिप बाम का प्रयोग करें।
  • हाथों से होठों की त्वचा न छीलें। बिस्तर पर जाने से पहले कोमल बाम या मक्खन को लगायें। अत्यधिक सूखेपन से होठों की त्वचा निकलती है। होंठ के लिए उपयुक्त मॉइस्चराइजर लगायें।
  • लिप्स टिप्स, लिप बाम से होठों में नमी रखना आम है। पर एक अन्य विधि है हरी चाय बैग को लें और गर्म पानी में डुबा दें। अब 1 मिनट के बाद बैग बाहर निकाल लें और 5 मिनट के लिए धीमी गति से होठों पर लगायें।
  • लिप्स टिप्स, होठों की जलन वाले पदार्थ जैसे शराब, सिगरेट, मिर्च, ठंडाई आदि से बचने की कोशिश करें।
  • फटे होठ शरीर में विटामिन बी-2 की कमी का संकेत देते हैं। इसलिए आप संतुलित भोजन करें, ताकि शरीर को विटामिन बी भी पर्याप्त मात्रा में मिल जाए। बदलते मौसम में होठों की नमी बरकरार रखने के लिए उपयुक्त मॉइस्चराइजर, बाम या लेप का इस्तेमाल करना न भूलें।

पानी आपकी त्वचा को पोषण देने के साथ नमी को बनाए रखता है। लिक्विड डाइट बढ़ा दें। विटामिन बी की कमी से होठों की समस्याएं आती हैं। आहार में साबुत अनाज, दूध, पनीर, अंडे, टोफू जरूर शामिल करें। विभिन्न सेल्स के निर्माण में सहायक विटामिन ए से भरपूर खुबानी, गाजर, दूध और दूध उत्पादों की मात्रा अपने आहार में बढ़ाएं। विटामिन सी वाले खट्टे और रसदार फल खाएं। ये लिप्स-फुलर का काम करता है। विटामिन ई से भरपूर हरी पत्तेदार सब्जियां और अंडे अपने आहार में शामिल करें।

  • ऐलोवेरा : इसकी पत्ती काट कर इससे निकले रस की कुछ बूंदें होठों पर लगाएं।
  • शहद : होठों को नमीयुक्त बनाने के लिए शहद काफी कारगर उपाय है। फटे होठों पर दिन में 2-3 बार शहद लगाएं। थोड़ा-सा शहद रात को सोने से पहले अपने होठों पर लगाएं।
  • ताजा मक्खन : थोड़ा-सा ताजा मक्खन अपने होठों पर लगाकर धीरे-धीरे उंगली से मालिश करें।
  • ग्लिसरीन और गुलाब जल : कटोरी में एक चम्मच ग्लिसरीन में 5-6 बूंदें गुलाब जल मिला कर रात मे सोने से पहले लगाएं। गुलाब की पंखडियों को रात को ग्लिसरीन या दूध में भिंगो कर रख दें। इसका गाढ़ा पेस्ट बना लें और होठों पर 15-20 मिनट के लिए लगाएं। फिर पानी से धो लें।
  • ग्लिसरीन और शहद : एक चम्मच शहद में ग्लिसरीन की कुछ बूंदें मिलाएं। इसे होठों पर लगा कर 15 मिनट छोड़ दें। सामान्य पानी से धो लें। रात में सोने से पहले फिर थोड़ा-सी ग्लिसरीन होठों पर लगाएं।
  • देशी घी : दिन में किसी भी समय खासतौर पर रात को सोते समय देशी घी की कुछ बूंदें अपनी उंगली से होठों पर लगाएं।
  • नींबू का रस और दूध क्रीम : एक छोटी कटोरी में नींबू के रस की 3-4 बूंदों के साथ एक चम्मच दूध क्रीम मिला कर फ्रिज में कुछ देर रखें। इसे होठों के आसपास लगाएं।
  • नारियल तेल : नारियल तेल, ग्लिसरीन की कुछ बूंदें और नीबू का रस मिलाकर होठों पर लगाएं।
  • आप घी या मक्खन लगाकर भी इसे अपने होंठों पर रातभर के लिए छोड़ सकते हैं। सुबह तक आपके होंठ गुलाबी होंठ, नर्म और मुलायम हो जाएंगे।
  • सर्दियों में खुश्की से होंठ फट जाएं तो उस पर आधा चम्मच दूध की मलाई में चुटकी भर हल्दी का बारीक चूर्ण मिलाकर मलने या लगाने से होंठ चिकने और मुलायम हो जाते हैं।
  • शुष्क हवा के कारण होंठ फटने पर सोते समय रात में सरसों का तेल या गुनगुने घी को नाभि में लगाएं।
  • नारियल तेल में शहद मिला कर फटे और सूखे होंठ पर लगाएं।
  • शहद, नींबू और ग्लिसरीन को मिला कर होंठ पर लगाएं। इसे लगाने होंठों का सूखना और फटना बंद होगा और होंठ गुलाबी भी होंगे।
  • सोते समय होंठों पर मक्खन की मालिश करने से होंठ गुलाबी होंगे।
  • रोजाना होंठों पर जैतून का तेल लगाने से होंठ की नमी बरकरार रहती है, होंठ फटते नहीं हैं।
  • स्मोकिंग न करें। स्मोकिंग से होंठों का गुलाबीपन खत्म होता है। होंठ काला हो जाता है।
  • गुलाब की पंखुडियों को दूध में भिगोकर रख दें। फिर इसका पेस्ट बनाकर होंठ पर लगाएं। इससे होंठों पर कुदरती गुलाबी रंग आएगा और होंठ मुलायम रहेंगे।

क्षतिग्रस्त होंठों को उपचार की आवश्यकता होती है। इसके लिए जायफल के एसेंशियल ऑइल  मैंडरिन एसेंशियल ऑइल (तथा विटामिन इ के तेल को आपस में मिश्रित करें तथा इसे दिन में दो से तीन बार अपने होंठों पर लगाएं। एक और विकल्प के तौर पर आप नीम के पत्तों का रस फटे और पपडीदार होंठों पर लगाएं। होठ लाल कैसे करे, कैलेंडुला लोशन भी होंठों का उपचार करने तथा उन्हें नर्म करने के काम आता है।

जलन को दूर करें

कई बार होंठों को चाटने या सूरज के ज़्यादा देर तक संपर्क में रहने के कारण वे लाल और जले हुए से प्रतीत होते हैं। होठों की लाली, इसे ठीक करने का सबसे प्राकृतिक उपाय होंठों पर आलू का रस या एलोवेरा जेल (Aloe Vera gel) लगाना है। आलू में मौजूद स्टार्च (starch) होंठों को ठंडक प्रदान करते हैं तथा जले होंठों को सुकून देते हैं।

 

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *