वीरभद्र सिंह ने परशुराम की पालकी को कंधा देकर की शोभा यात्रा की अगुवाई

वीरभद्र सिंह ने की रेणुका मेले में परशुराम पालकी को कंधा देकर शोभा यात्रा की अगुवाई

  • मुख्यमंत्री ने किया अन्तरराष्ट्रीय “रेणुकाजी” मेले का शुभारम्भ
  • सदियों पुराने मंदिरों के संरक्षण एवं रख-रखाव का आग्रह
  • मैना-बाग में आईटीआई की रखी आधारशिला
  • अन्तरराष्ट्रीय रेणुका जी मेले का इष्टदेव भगवान परशुराम की पालकी

शिमला: मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने अपनी धर्मपत्नी एवं पूर्व सांसद प्रतिभा सिंह और सपुत्र विक्रमादित्य सिंह, जो राज्य युवा कांग्रेस के अध्यक्ष भी हैं, सहित सप्ताह भर चलने वाले अन्तरराष्ट्रीय रेणुका जी मेले का इष्टदेव भगवान परशुराम की पालकी के समक्ष पूजा-अर्चना कर मेले का विधिवत उदघाटन किया। इसके उपरांत उन्होंने इष्टदेव की पालकी को कंधा देकर शोभा यात्रा की अगुवाई की।

यह मेला भगवान परशुराम का उनकी माता रेणुका जी के साथ दशमीकी पूर्व संध्या पर सालाना भेंट का प्रतीक है। प्रत्येक वर्ष देवप्रोबोधिनी एकादशीके अवसर पर, रेणुका झील जहां देश भर से लाखों श्रद्धालु आते हैं, के किनारे पर पारम्परिक श्री रेणुका जी मेले का आयोजन किया जाता है।

परम्परा के अनुसार भगवान परशुराम की पालकी को जामू कोटी गांव के प्राचीन मंदिर से रेणुका लाया जाता है तथा विधिवत धार्मिक रस्मों सहित झील में पवित्र स्नान के उपरांत इसे वापिस ले जाया जाता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के लोग अपनी समृद्ध परम्पराओं, रीति-रिवाजों तथा संस्कृति के लिए जाने जाते हैं। उन्होंने कहा कि मेले एवं त्यौहार राज्य के लोगों के जीवन का अभिन्न हिस्सा हैं। उन्होंने कहा कि सदियों पुराने मंदिरों का संरक्षण एवं रखरखाव करना प्रत्येक नागरिक का कर्तव्य है।

पारम्परिक रंग-बिरंगें परिधानों में सुसज्जित श्रद्धालुओं ने नृत्य की प्रस्तुति की और दैवीय गीतों का उच्चारण करते हुए अपने इष्टदेव का उत्सव मनाया, जिससे वातावरण खुशनुमा हो गया। मुख्यमंत्री ने विभिन्न सरकारी विभागों तथा गैर सरकारी संस्थानों द्वारा स्थापित राज्य तथा जिला के विकास को दर्शाती प्रदर्शनियों का भी उद्घाटन किया।

रेणुका से लगभग 14 किलोमीटर दूर मैना बाग हेलिपैड पर पर उतरने पर मुख्य संसदीय सचिव एवं स्थानीय विधायक विनय कुमार ने मुख्यमंत्री का गर्मजोशी के साथ स्वागत किया। इस अवसर पर उनके साथ राज्य योजना बोर्ड के उपाध्यक्ष गंगू राम मुसाफिर, रोजगार सृजन और संसाधन मोबेलाईजेशन के अध्यक्ष हर्षवर्धन चौहान, जिला कांग्रेस अध्यक्ष अजय सोलंकी तथा अन्य गणमान्य लोग भी उपस्थित थे।

इससे पूर्व, मुख्यमंत्री ने मैना बाग में लगभग 6.53 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान की आधारशिला भी रखी। मुख्य संसदीय सचिव विनय कुमार ने मैना बाग हेलिपैड पर मुख्यमंत्री का स्वागत किया। इस अवसर पर स्थानीय नेतागण और अधिकारी भी उनके साथ थे। मुख्यमंत्री ने रेणुका में लोगों की समस्याएं भी सुनीं। इसके पश्चात, देर सांय मुख्यमंत्री ने मेले की प्रथम सांस्कृतिक संध्या का शुभारम्भ किया और इस अवसर पर मेले की स्मारिका का विमोचन भी किया। अन्तरराष्ट्रीय श्री रेणुका जी मेले के अध्यक्ष एवं उपायुक्त सिरमौर बी.सी. बडालिया ने मुख्यमंत्री तथा अन्य गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत किया और उन्हें सम्मानित किया।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *