हिमाचल में उद्यमियों को अनेक प्रोत्साहन एवं मित्रतापूर्ण निवेश वातावरण

हिमाचल में उद्यमियों को अनेक प्रोत्साहन एवं मित्रतापूर्ण निवेश वातावरण

शिमला: हिमाचल प्रदेश सरकार प्रदेश में निवेश करने के लिए उद्यमियों को मित्रतापूर्ण निवेश वातावरण व विभिन्न प्रोत्साहन प्रदान कर ही है। यह जानकारी आज नई दिल्ली में आयोजित भारत-चीन निवेश सम्मेलन में प्रदेश का प्रतिनिधित्व करते हुए उप-आवासीय आयुक्त विवेक महाजन ने दी। इस सम्मेलन में देश के 10 राज्यों ने भाग लिया। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कृषि आधारित उद्योगों की आपार संभावनाएं हैं। इसके अतिरिक्त, राज्य में पन बिजली उत्पादन की भी आसीमित क्षमता है। प्रदेश में निवेश मित्र वातावरण व उत्तरदायी प्रशासन नियमित तौर पर उद्यमियों को उद्योग स्थापित करने के लिए सरल प्रक्रिया प्रदान करने के लिए प्रयासरत है। औद्योगिक व विभिन्न पर्यटन इकाइयों को उनके प्लांट व मशीनरी स्थापित करने के लिए 15 प्रतिशत निवेश अनुदान प्रदान किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त, औद्योगिक इकाइयां की तैयार वस्तुओं और कच्चे माल को निकटतम निर्धारित रेल मार्ग से फैकट्रियों तक पहुंचाने के लिए 75 प्रतिशत परिवहन अनुदान प्रदान किया जा रहा है।

महाजन ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा निवेशकों को अनेक प्रोत्साहन, छूट व सुविधाएं प्रदान की जा रही हैं, जिनमें स्थानीय कर, श्रम कानून व भू-आवंटन इत्यादि शामिल हैं। उन्होंने कहा कि स्टांप शुल्क, एफएआर नियमों व सीएलयू शुल्क तथा विद्युत दरों में भी छूट दी जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में उपलब्ध विद्युत दर देश भर में सबसे कम है और प्रदेश सरकार द्वारा नए उद्योगों के तैयार माल पर एक प्रतिशत सीएसटी दर में छूट प्रदान की जा रही है।

महाजन ने कहा कि राज्य नए शहरों को विकसित करने की दिशा में तत्पर है और वर्तमान सामाजिक व नागरिक अधोसंरचना का संवर्द्धन किया जा रहा है। सूचना प्रौद्योगिकी, जैव प्रौद्योगिकी व इलैक्ट्रॉनिक इकाइयों को बढ़ावा देने के लिए नए परिसर विकसित किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा राज्य में सूचना प्रौद्योगिकी व सॉफ्टवेयर आधारित इकाइयों को प्रोत्साहित किया जा रहा है। उन्होंने विश्वास जताया कि इन प्रोत्साहनों व मित्रतापूर्ण निवेश वातावरण से भारी संख्या में उद्यमी प्रदेश में निवेश के लिए आकर्षित होंगे।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *