शिमला: 9 जुलाई को जतोग के तहत इन क्षेत्रों की बिजली रहेगी बंद...

योजना के तहत प्रदेश के सभी विद्युत रहित 28 गांवों का विद्युतीकरण : अनुराग पराशर

बिजली बोर्ड के उप निदेशक (लोक सम्पर्क) अनुराग पराशर

बिजली बोर्ड के उप निदेशक (लोक सम्पर्क) अनुराग पराशर

शिमला: हिमाचल प्रदेश स्टेट इलैक्ट्रीसिटी बोर्ड लिमिटेड द्वारा भारत सरकार के विद्युत मंत्रालय द्वारा निर्धारित लक्ष्यों के आधार पर 30 सितम्बर 2016 को वर्ष 2011 की जनगणना के आधार पर दीन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के तहत प्रदेश के सभी विद्युत रहित 28 गांवों का विद्युतीकरण कर दिया गया है। इन विद्युत रहित 28 गांवों का विद्युतीकरण 30 सितम्बर 2016 को पूरा किया गया है। इस योजना के अंतर्गत प्रदेश के सभी विद्युत रहित गांवों को विद्युतीकृत कर हिमाचल प्रदेश स्टेट इलैक्ट्रीसिटी बोर्ड लिमिटेड ने एक नई उपलब्धि हासिल की है। इसके साथ ही इस योजना के अंतर्गत अब हिमाचल प्रदेश के सभी विद्युत रहित गांव विद्युतीकृत हो गए हैं। भारत सरकार के विद्युत मंत्रालय द्वारा दीन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना को, मुख्य उदेश्य ग्रामीण क्षेत्रों में विश्वसनीय व गुणवतापूर्ण विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करने सहित ग्रामीण घरों के विद्युतीकरण के लिए 3 दिसम्बर 2014 को शुरू किया गया है।

यह जानकारी देते हुए बोर्ड लिमिटेड के उप निदेशक (लोक सम्पर्क) अनुराग पराशर ने बताया कि दीन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना 159.12 करोड़ रूपये के प्रावधान सहित हिमाचल प्रदेश स्टेट इलैक्ट्रीसिटी बोर्ड लिमिटेड द्वारा प्रदेश के सभी 12 जिलों के लिए तैयार की गई थी और इसे भारत सरकार द्वारा अनुमोदित किया गया है। केन्द्र सरकार द्वारा इस योजना के तहत 13.46 करोड़ रूपये की राशि जारी की गई है।

दीन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के अंतर्गत लिए गए कुल 35 गांवों में से अब 28 गांवों को योजना के अंतर्गत विद्युतीकृत कर दिया गया है       (सात मौसमी/प्रवासी बस्ती हैं)।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *