आज राष्ट्र स्तर पर प्रदेश को जो पुरस्कार मिले, इसका श्रेय राज्य सरकार और प्रदेश के मेहनतकश लोगों को : सुधीर शर्मा

  • स्वच्छता अभियान व अम्रुत मिशन के लिए हिमाचल को राष्ट्रीय पुरस्कार

शिमला: हिमाचल प्रदेश को स्वच्छता अभियान मिशन और अम्रुत मिशन को लागू करने के लिए राष्ट्र स्तर पर प्रथम पुरस्कार प्रदान किए गए हैं। मण्डी जिला को स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के अंतर्गत खुला शौचमुक्त जिला घोषित होने और शिमला को अम्रुत मिशन में सराहनीय कार्य के लिए पुरस्कार मिले हैं। केन्द्रीय शहरी विकास मंत्री वैंकेया नायडू ने प्रदेश के शहरी विकास एवं आवास मंत्री मंत्री सुधीर शर्मा को शिमला व कुल्लू जिला में अम्रुत मिशन के दिशा-निर्देशों के अनुसार सक्रियता से कार्य करने और ई-गवर्नैंस व अन्य अनेक क्षेत्रों में अनुकरणीय पहल करने के लिए पुरस्कृत किया।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मण्डी जिला के आयुक्त संदीप कदम और बल्ह क्षेत्र की खण्ड विकास अधिकारी वसुन्धरा सूद को आज नई दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित एक दिवसीय इंडो-सेन-2016सम्मेलन में ये पुरस्कार प्रदान किए गए।

प्रदेश के ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री अनिल शर्मा, शहरी विकास विभाग के निदेशक डा. आर.के. पूर्थी और नगर निगम शिमला के आयुक्त पंकज राय व अन्य उच्च अधिकारी भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

  • मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के नेतृत्व में हिमाचल प्रदेश छू रहा है विकास की नई ऊंचाइयां : सुधीर शर्मा

इंडो-सेन 2016 के राष्ट्र-स्तरीय सम्मेलन में भाग लेते हुए सुधीर शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के नेतृत्व में हिमाचल प्रदेश विकास की नई ऊंचाइयां छू रहा है। आज राष्ट्र स्तर पर प्रदेश को जो पुरस्कार मिले हैं, इसका श्रेय राज्य सरकार और प्रदेश के मेहनतकश लोगों को जाता है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश केन्द्रीय प्रायोजित योजनाओं को कार्यान्वित करने में सदैव अग्रणी रहा है और भविष्य में भी अम्रुत मिशन, स्वच्छ भारत मिशन और स्मार्ट सिटी जैसी महत्वाकांक्षी योजनाओं को लागू करने में प्रमुखता से कार्य करेगा। इन क्षेत्रों में हिमाचल प्रदेश की ओर से किए गए कार्यों की सराहना के लिए उन्होंने प्रधानमंत्री का आभार व्यक्त किया।

अम्रुत मिशन के अंतर्गत बेहतर कार्य करने के लिए समस्त अधिकारियों व कर्मचारियों को बधाई देते हुए सुधीर शर्मा ने कहा कि इससे प्रदेश को वर्ष 2015-16 के लिए 3.54 करोड़ रुपये की प्रोत्साहन राशि प्राप्त होगी जिससे इन जिलों के विकास को नई दिशा मिलेगी। उन्होंने हिमाचल को राष्ट्र स्तरीय पुरस्कार प्रदान करने के लिए केन्द्र सरकार का आभार व्यक्त करते हुए आग्रह किया कि प्रदेश की भौगोलिक परिस्थितियों और लोगों की विकास के प्रति सक्रिय भागीदारी को देखते हुए और जिलों को भी इन योजनाओं के तहत लाया जाए ताकि प्रदेश में विकास की निरंतरता को बनाए रखा जा सके ।

ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री अनिल शर्मा ने मंडी जिला के खुला शौचमुक्त होने और राष्ट्र स्तरीय पुरस्कार मिलने पर अपनी प्रतिक्रिया में कहा है कि इस उपलब्धि के लिए जिला के अधिकारी, कर्मचारी तथा समस्त जिलावासी बधाई के पात्र हैं, जिन्हांने विकास में भागीदारी का एक आदर्श प्रस्तुत किया है। उन्होंने केन्द्र सरकार को आश्वस्त किया कि पंचायती राज एवं ग्रामीण विकासयोजनाओं को लागू करने में हिमाचल प्रदेश सदैव अग्रणी रहेगा।

 

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

  +  86  =  92