नेताजी सुभाष चंद्र बोस संबंधी 25 गोपनीय फाइलों की 7वीं किस्त जनता के लिए जारी

नेताजी सुभाष चंद्र बोस संबंधी 25 गोपनीय फाइलों की 7वीं किस्त जनता के लिए जारी

 

नेताजी सुभाष चंद्र बोस संबंधी 25 गोपनीय फाइलों की 7वीं किस्त जनता के लिए जारी

नेताजी सुभाष चंद्र बोस संबंधी 25 गोपनीय फाइलों की 7वीं किस्त जनता के लिए जारी

नई दिल्ली: नेताजी सुभाष चंद्र बोस से सम्बंधित 25 गोपनीय फाइलों की सातवीं किस्त को आज जारी कर दिया गया। ये फाइलें www.netajipapers.gov.in उपलब्ध करा दी गयी हैं। इन फाइलों को संस्कृति सचिव श्री एन.के. सिन्हा ने जारी किया। उक्त 25 फाइलें विदेश मंत्रालय (1951-2006) से सम्बंधित हैं।

याद रहे कि नेताजी से सम्बंधित 100 गोपनीय फाइलों की पहली खेप को शुरूआती संरक्षण उपचार और उनका डिजिटलीकरण करने के बाद 23 जनवरी, 2016 को नेताजी की 119वीं वर्षगांठ पर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने जनता के लिये जारी किया था। उसके बाद 50 फाइलों की दूसरी खेप, 25 फाइलों की तीसरी खेप, 25 फाइलों की चौथी खेप, 25 फाइलों की पांचवीं खेप और 25 फाइलों की छठवीं खेप को क्रमश: 29 मार्च, 2016, 29 अप्रैल, 2016, 27 मई, 2016, 29 जून 2016 और 29 जुलाई 2016 को जारी किया गया था। अब तक कुल 250 फाइलों को जनता के लिए खोल दिया गया है।

जिन 25 फाइलों को आज जारी किया गया है, वे नेताजी से संबंधित फाइलों को जानने के लिए जनता की आकांक्षा के अनुरूप हैं। इन फाइलों से अध्‍येयताओं को भारत के स्‍वतंत्रता संग्राम के बारे में और अनुसंधान करने की सुविधा होगी। इन फाइलों की विशेष रूप से गठित समिति ने जांच की है। समिति में अभिलेखों से संबंधित विशेषज्ञों को रखा गया है।

उल्‍लेखनीय है कि 1957 में राष्‍ट्रीय अभिलेखागार भारत को रक्षा मंत्रालय की ओर से आजाद हिन्‍द फौज के संबंध में 990 डी-क्‍लासिफाईड फाइलें प्राप्‍त हुई थीं। इसके बाद 2012 में खोसला आयोग से संबंधित 271 फाइलें/सामग्री तथा न्‍यायमूर्ति मुखर्जी जांच आयोग की 759 फाइलें/ सामग्री प्राप्‍त हुई थीं। इस तरह गृह मंत्रालय से कुल 1030 फाइलें/ सामग्री प्राप्‍त हुईं। ये सभी फाइलें सार्वजनिक रिकॉर्ड नियम, 1997 के तहत जनता के लिए खोल दी गई हैं।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

  −  2  =  7