बहुराष्ट्रीय कम्पयूटर प्रौद्योगिकी निगम ओरेकल ने जताई प्रदेश में निवेश की इच्छा

शिमला : बहुराष्ट्रीय कम्पयूटर प्रौद्योगिकी निगम ओरेकल ने हिमाचल प्रदेश के साथ प्रौद्योगिकी क्षेत्र में हिस्सेदारी की इच्छा जाहिर की है। यह जानकारी आज यहां ओरेकल के अध्यक्ष लवाईस ली गैसकट ने मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह तथा मुख्य सचिव वी.सी. फारका के साथ विशेष भेंट में दी।

मुख्यमंत्री के सलाहकार (सूचना प्रौद्योगिकी) गोकुल बुटेल ने अग्रणी सोफ्ट्वेयर कम्पनी के प्रतिनिधियों की मुख्यमंत्री के साथ शिमला में बैठक को सहज बनाया। वीरभद्र सिंह ने राज्य में बागवानी, कृषि तथा पर्यटन क्षेत्रों के आधुनिकीकरण के लिए समाधान विकसित करने के लिए ओरेकल से सुझाव आमंत्रित किए। वी.सी. फारका ने राज्य में साहसिक पर्यटन स्थलों की पहचान व इन्हें विकसित करने के लिए प्रौद्योगिकी की भूमिका की आवश्यकता पर बल दिया। गोकुल बुटेल ने हिमाचल प्रदेश में स्टार्टअप के लिए इंक्यूबेशन केन्द्र स्थापित करने का आग्रह किया, क्योंकि राज्य में सूचना प्रौद्योगिकी आधारित उद्योगों को प्रोत्साहित करने के लिए बेहतर जलवायु वातावरण, पर्याप्त मानव संसाधन तथा ऊर्जा उपलब्ध है।

बैठक के दौरान मिस्टर लवाईस ने राज्य के लिए ओरेकल से प्रायोजित मोबाईल एप्लीकेशन आधारित समाधानों के लिए प्रोटोटाईप तैयार करने का आश्वासन दिया। ओरेकल इंडिया के प्रबन्ध निदेशक शैलेन्द्र कुमार, सेल्स के उपाध्यक्ष सुन्दर राम तथा सेल्स के निदेशक अमित डाबरा भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

 

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

94  −  85  =