पंकज उधास

पंकज उधास की ‘हम बाजा बजा देंगे’

पंकज उधास बॉलीवुड में करेंगे वापसी

मनीष शुक्ला बीबीसी हिंदी

पंकज उधास

पंकज उधास

ग़ज़लों से लेकर हिन्दी गीतों में अपनी आवाज़ का जादू बिखेरने वाले फ़नकार पंकज उधास काफ़ी दिनों के बाद बॉलीवुड में वापसी करेंगे । संजय दत्त की फ़िल्म ‘नाम’ में मशहूर ग़ज़ल ‘चिट्ठी आई है’ के दौरान पंकज उधास रूपहले पर्दे पर नज़र आए थे, लेकिन बतौर अभिनेता वो नज़र आएंगे फ़िल्म “हम बाजा बजा देंगे” में।

फ़िल्मों में कोई ग़ज़ल नहीं डालता:एक वक़्त ऐसा भी था जब हिंदी फ़िल्मों में एक ग़जल को अनिवार्य तौर पर डाला जाता था, लेकिन इधर कुछ समय से न सिर्फ़ ग़जलें फ़िल्मों में कम हुई हैं, बल्कि रेडियो पर भी बिरले ही सुनाई देती हैं। भारत में ग़ज़ल गायकी की लोकप्रियता को लेकर पंकज उधास कतई ख़फा नहीं हैं उनका कहना है, “वक़्त बदल रहा है। आजकल के युवाओं को ग़ज़लें कम पसंद हैं. लेकिन ऐसा नहीं कि ग़ज़लों को चाहने वालो की कमी है।” उधास कहते हैं, “मैं स्टेज शो करता हूँ ताकि ग़ज़लें अपने चाहने वालों तक पहुंच जाएं और यकीन मानिए आज भी ग़ज़ल प्रेमियों से हॉल भरे रहते हैं।”

मौके का इंतज़ार: पकंज कहते हैं,”ऐसा नहीं कि मैं फ़िल्मों में गाना नहीं चाहता पर अच्छे मौके की तलाश है। मौका मिलेगा तो ज़रूर गाऊंगा। “उन्होंने कहा कि अच्छी गुणवत्ता वाले संगीत को पीछे नहीं किया जा सकता। कुछ देर लगती है लेकिन वो वापस आता है। पंकज उधास हाल ही में रिलीज़ फ़िल्म “दम लगा के हईशा” से बॉलीवुड की संगीत दुनिया में कुमार शानू की वापसी से खुश हैं। पंकज कहते हैं

कुमार शानू ने हमेशा की तरह इस फ़िल्म में भी काफी अच्छे गाने गाए हैं और मैं उनकी सफ़लता से काफी खुश हूँ। उनकी वापसी से कई पुराने गायकों को फिर से मौक़ा मिल रहा है, यह बहुत अच्छी बात है।

जलोटा और जैकी का साथ: अपनी अभिनय की पारी की शुरूआत पर पंकज ने सिर्फ़ इतना कहा “देखिए मेरा तो कोई बड़ा रोल नहीं है। इस फ़िल्म में मेरे अलावा अनूप जलोटा और जैकी श्रॉफ़ भी हैं। ये फ़िल्म एक सस्पेंस थ्रिलर है और उम्मीद है लोगों को पसंद आएगी।” पंकज ने फ़िल्म के बारे में ज़्यादा कुछ नहीं बतया और अपने चिरपरिचित अंदाज़ में मुस्कुराते हुए मना कर दिया।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *