मुंह की दुर्गंध के कारण व दूर करने के घरेलु नुस्खे

मुंह की दुर्गंध के कारण व दूर करने के घरेलु नुस्खे

पुदीना का कूल और फ्रेश फ्लेवर मुंह से आने वाली बदबू को दूर करने का सबसे असरदार इलाज है।

पुदीना का कूल और फ्रेश फ्लेवर मुंह से आने वाली बदबू को दूर करने का सबसे असरदार इलाज है।

मुंह की दुर्गंध की समस्या अक्सर दूसरों के सामने शर्मिंदगी का कारण बन सकती है। जिसके पीछे कई कारण हो सकते हैं। जैसे ब्रेकफास्ट न करना, मुंह की सफाई न करना, खराब डाइजेशन और सलाइवा की कमी जैसी कई समस्याएं होती हैं। इसे खान-पान में सुधार करके काफी हद तक कम किया जा सकता है। आइए जानेंगे इनके बारे में— सबसे पहले तो दांतों और मुंह से बदबू आने के कारण जानते हैं।

  • दांतों और मुंह को अच्छे से साफ न करने से मुंह की दुर्गंध की समस्या होती है।
  • खाने के बाद कुल्ला न करना।
  • जीभ को अच्छे से साफ न करना।
  • मुंह में जो लार या सलाईवा कम बनती है। जिसके कारण ज्यादा मात्रा में सूक्ष्म जीवाणु मसूड़ो पर हमला करते हैं। इससे मुंह में बदबू पैदा करते हैं।
  • धुम्रपान, गुटका और तम्बाकू के सेवन से भी मुंह में बदबू की समस्या उत्पन्न हो जाती है।
  • पाचन तंत्र का ठीक न होना या कब्ज का होना। इन कारणों से भी मुंह में बदबू आने की समस्या होती है।
  • टॉन्सिल में इन्फेक्शन होने के कारण भी “मुंह में दुर्गन्ध” की समस्या होती है।
  • मुंह का अलसर या पेट के अलसर के कारण भी सांसो में दुर्गन्ध की समस्या हो सकती है।
  • पेट में गैस की वजह से भी मुंह में बदबू हो सकती है।
  • आपके दांतों में अगर सडन है तो मुंह से बदबू आएगी।

 मुंह की दुर्गन्ध के घरेलु उपाय

पानी : पानी भरपूर मात्रा में पीकर मुंह से बदबू आने की समस्या को दूर किया जा सकता है। दिन में 7-8 गिलास पानी पिएं और साथ ही गुनगुने पानी से गारगल भी करें। डिहाइड्रेशन की वजह से मुंह के बैक्टीरिया एक्टिव हो जाते हैं जो सांसों की दुर्गंध की वजह बनते हैं।

विटामिन सी फूड्स : विटामिन सी से भरपूर चीजों को डाइट में शामिल करें। संतरा, नींबू, कीवी जैसे खट्टे फल मुंह की बदबू को दूर करने के कारगर इलाज हैं। विटामिन सी बैक्टीरिया का खात्मा करता है। जो सांसों की बदबू के लिए जिम्मेदार होते हैं।

सेब : सेब को दांतों से काटकर खाने से मुंह की बदबू से छुटकारा पाया जा सकता है। ये सलाइवा के सेकरेशन को बढ़ाता है जो मुंह से आने वाली बदबू के लिए जिम्मेदार बैक्टीरिया के बढ़ते ग्रोथ को रोकता है।

दालचीनी चाय : इसका एंटी बैक्टीरियल तत्व मुंह के बैड बैक्टीरिया से लड़ने का काम करता है

दालचीनी चाय एंटी बैक्टीरियल तत्व मुंह के बैड बैक्टीरिया से लड़ने का काम करता है

दालचीनी चाय : इसका एंटी बैक्टीरियल तत्व मुंह के बैड बैक्टीरिया से लड़ने का काम करता है। सांसों से आने वाली बदबू को जल्द दूर करने के लिए दालचीनी की चाय का दिन में 2-3 बार इस्तेमाल करना चाहिए।

पुदीना : पुदीना का कूल और फ्रेश फ्लेवर मुंह से आने वाली बदबू को दूर करने का सबसे असरदार इलाज है। पुदीने के पत्तों को कच्चा चबाएं या इसे डिश और ड्रिंक में मिलाकर पिएं। हर तरीके से ये फायदेमंद होती है।

लौंग : लौंग ओरल हेल्थ को मेंटेन रखती है। दांतों में दर्द की समस्या हो या पीलेपन की, लौंग को चबाकर बदबू से राहत पाई जा सकती है। कच्चा खाने के अलावा इसे खाने में मिक्स करके भी खाया जा सकता है।

सौंफ : खाने के बाद सही डाइजेशन के लिए सौंफ खाने का रिवाज काफी पुराना है और मुंह से आने वाली बदबू के पीछे खराब डाइजेशन भी एक बड़ी वजह होती है। जिसे सौंफ खाकर काफी हद तक कम किया जा सकता है।

इलायची : सांसों में आ रही खतरनाक बदबू को दूर करने के लिए इलायची खाना भी एक अच्छा उपचार है। इसे कच्चा चबाया जा सकता है। साथ ही किसी डिश को बनाते वक्त भी उसमें मिक्स किया जा सकता है। इलायची वाली चाय पीना भी फायदेमंद होता है।

  • सबसे पहले आप अच्छे से दांतों और पुरे मुंह की सफाई करे। ब्रश करते वक्त जीभ साफ करना न भूले। सबसे ज्यादा जीवाणु जीभ में ही पनपते है, इसलिए जीभ की अच्छे से सफाई करे। प्रतिदिन गुनगुने पानी में नमक डाल कर कुल्ला करे। इससे आपकी दुर्गन्ध की समस्या कम होगी। प्राकृतिक माउथ फ्रेशनर के रूप में इलायची काम करती है। इसलिए इलायची का इस्तेमाल आप प्रतिदिन करें। लौंग भी आपके मुंह की बदबू को दूर करता है। खाली पेट सुबह-सुबह आंवला जूस का सेवन करना से भी लाभ मिलेगा।
  • नींबू और संतरे के छिलके को चबाने से मुंह की बदबू कम होती है। एक कप पानी लें और उसमें जीरे का तेल 4-5 बूंद मिलाकर गार्गल करें, लाभ मिलेगा। आप सुखा हुआ धनिया भी चबा सकते हैं। इससे भी आपकी मुंह की बदबू कम होगी। तुलसी लगभग हर रोग में काम आती है। तुलसी का सेवन करने से भी मुंह की दुर्गन्ध कम होगी। भोजन के बाद सौंफ चबाने की आदत डालें।
  • अनार के छिलके को पानी में उबाल लें और गुनगुना होने पर कुल्ला करे। इससे मुंह की बदबू से छुटकारा मिलेगा।

    खाने के बाद सही डाइजेशन के लिए सौंफ खाने का रिवाज काफी पुराना है

    खाने के बाद सही डाइजेशन के लिए सौंफ खाने का रिवाज काफी पुराना है

  • ज्यादा पानी का सेवन करें। प्रतिदिन कम से कम 10 गिलास पानी पिएं।
  • कम से कम साल में एक बार दांतों की सफाई कराएं।
  • एक चम्मच बेकिंग सोडा को एक कप पानी में मिला कर और उसमे पुदीना मिला ले। इससे कुल्ला करे लाभ मिलेगा।
  • सरसों के तेल में थोड़ा सा नमक मिला लें। अब उस मिश्रण को अपने दांतों और मसूड़ों में अच्छे से मालिश करे। यह प्रक्रिया दिन में एक बार कर सकते हैं।
  • खीरे और गाजर का सेवन करें। इससे आपके दांत में जमने वाली गंदगी घिस कर साफ हो जाती है। मुंह की बदबू की समस्या कम होती है।
  • भोजन में ताजी और रेशेदार सब्जियों का सेवन करें।
  • एक कप पानी में एक चम्‍मच बेकिंग सोडा मिलाकर गरारे करने से मुंह का एसिटिक लेवल कम होता है और सांस की बदबू दूर होती है।
  • लौंग को हल्का भुनकर चूसें, इससे सांसों में ताजगी आती है।
  • गर्म पानी में नमक डालकर कुल्ला और गरारें करें।
  • त्रिफला की जड़ की छाल को मुंह में रखकर चबायें।
  • जीरे को भुनकर खाने से भी सांसों की दुर्गंध दूर होती है।
  • प्रतिदिन भोजन करने के बाद तुलसी के पत्ते या इलायची चबायें।
  • पुदीने को पीसकर पानी में घोलें और दिन में 2 से 3 बार इस पानी से कुल्ला करें।
  • पानी खूब पीयें और पेट को साफ रखें।
  • सुबह और सोने से पहले दांतों की सफाई करें और ब्रश करने के अलावा बीच-बीच में कुल्ला भी करें।
  • दालचीनी, सुगंधित इलायची, सोया के दाने चबाने और सिया जीरा के तेल से कुल्ला करने से सांस की बदबू मिटती है।
  • प्रतिदिन सुबह एक गिलास पानी में एक नीबू निचोडक़र इस पानी से कुल्ला करें।

सम्बंधित समाचार

अपने सुझाव दें

Your email address will not be published. Required fields are marked *