टूरिज़्म

सोलन का रमणीक पर्यटन स्थल "चायल"

सोलन का रमणीक पर्यटन स्थल “चायल”

छोटी-छोटी पहाडिय़ों पर बसा हुआ रमणीक एवं प्रकृति से लबालब सोलन का खुबसूरत पर्यटन स्थल “चायल”। हर तरफ चीड़,देवदार के ऊँचे-ऊँचे पेड़, खूबसूरत पहाड़ियां और एक अद्भुत शांति का अहसास कराता। बर्फ...

"शिमला" के दर्शनीय स्थल

“शिमला” के दर्शनीय स्थल….

“मालरोड़ शिमला”  लंदन के मालरोड़ से कम नहीं शिमला जहाँ खूबसूरती हरी वादियों से जाना जाता है वहीं इसकी गोद में शिमला की कई अनमोल धरोहरें व विरासतों की खुबसूरती भी “शिमला” के दर्शनीय...

हिमाचल: चम्बा से भरमौर तक "शिवपुरी".....

हिमाचल: चम्बा से भरमौर तक “शिवपुरी”…..

चम्बा से भरमौर तक के क्षेत्र को शिवपुरी कहा गया है। चम्बा के तीस किलोमीटर आगे रावी के दाएं किनारे गूं कोठी के शिव मंदिर के शिलालेख (मेरुवर्मन 680 ई.) में इस मंदिर को शिवपुरी के मध्य स्थित माना है।...

हिमाचल के सबसे दूर-दराज "डोडरा-क्वार" का इतिहास,संस्कृति व पर्यटन

“डोडरा-क्वार” अपने इतिहास,संस्कृति व पर्यटन के लिए विख्यात

डोडरा-क्वार की सांस्कृतिक यात्रा खेत-खलियान और बड़े बड़े हरे पेड़ पौधों में अपनेपन का एहसास हिमाचल अपने सौंदर्य, इतिहास,संस्कृति व पर्यटन के लिए अपनी विश्वभर में शानदार पहचान बनाए हुए है। ये...

हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले में बसा भारत का ऐतिहासिक अंतिम गांव “छितकुल”

किन्नौर जिले में बसा भारत का ऐतिहासिक अंतिम गांव “छितकुल”

जहां पर्यटन पूरे साल भर अपने यौवन में रहता है: किन्नौर जिले की सांगला घाटी का अंतिम गांव “छितकुल” यूं तो हिमाचल पर्यटन दृष्टि से विश्व भर में जाना जाता है, लेकिन प्रदेश के कुछ क्षेत्र ऐसे भी...

लोकप्रिय हिल स्टेशनों में से एक “नारकंडा”

लोकप्रिय हिल स्टेशनों में से एक शिमला का “नारकंडा”

कुदरत की रंगीन फिजाओं में बसा “नारकंडा” लोकप्रिय हिल स्टेशनों में से एक “हिमाचल का नारकंडा” हिमाचल की खूबसूरत वादियों को निहारने के लिए पर्यटक न केवल देशों से अपितु विदेशों से भी आते...

ऐतिहासिक धरोहर कोटखाई पैलेस, सेबों के बागीचों से लबालब व स्थानीय देवताओं के पौराणिक मन्दिर में सिमटा “कोटखाई”

सेबों के बागीचों से लबालब व स्थानीय देवताओं के पौराणिक मन्दिरों में सिमटा “कोटखाई”

  ऐतिहासिक धरोहर कोटखाई पैलेस शिमला का छोटा सा खुबसूरत शहर “कोटखाई” कोटखाई : बागीचों में काम करते लोग, सिर पर पहाड़ी टोपी पहने पुरुष व ढाट्टू ओढ़े महिलाएं यहाँ के लोगों का मुख्य व्यवसाय...