शिक्षा व स्वास्थ्य

खाली पेट लहसुन खाने के फायदे...

खाली पेट लहसुन खाने के फायदे…

खाली पेट लहसुन खाने से बीमारी होने का खतरा रहता है कम कई हानिकारक बीमारियों से बचाव करता है लहसुन का सेवन कई प्रकार की बीमारियों को रोकने में कारगर लहसुन (Garlic) लहसुन (Garlic) कई प्रकार की बीमारियों...

अध्यापक केवल कर्मचारी नहीं, बल्कि समाज का पथ प्रदर्शक : शिक्षा मंत्री

अध्यापक केवल कर्मचारी नहीं, बल्कि समाज का पथ प्रदर्शक : शिक्षा मंत्री

शिमला: शिक्षा, विधि एवं संसदीय कार्य मंत्री सुरेश भारद्वाज ने राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला पोर्टमोर में आयोजित पदारोहण एवं छात्र परिषद गठन समारोह की अध्यक्षता की। उन्होंने कहा कि इन...

अखरोट में है कई गंभीर बीमारियों से लड़ने की क्षमता

जीवन ऊर्जा से भरपूर “अखरोट…. जाने फायदे

अखरोट के फायदे : नियमित सेवन लाभकारी अखरोट में जरूरी पोषक तत्व होते हैं। यह शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है और इसमें कई गंभीर बीमारियों से लड़ने की क्षमता होती है। सुखद लम्‍बे जीवन के लिए...

नौणी विश्वविद्यालय की स्नातक प्रवेश परीक्षा के परिणाम घोषित

नौणी विश्वविद्यालय की स्नातक प्रवेश परीक्षा के परिणाम घोषित

4 जुलाई को विश्वविद्यालय परिसर में पहली काउन्सलिंग नौणी : डॉ. वाई.एस. परमार औदयानिकी एवं वानिकी विश्वविद्यालय नौणी ने 16 जून को आयोजित स्नातक प्रवेश परीक्षा (यूजीईई-2018) के परिणाम घोषित कर दिए...

HPPSC: स्क्रीनिंग टेस्ट का रिजल्ट घोषित

सहायक प्रोफसर का परिणाम घोषित

शिमला:   हिंदी, वाणिज्य, अंग्रेजी सहायक प्रोफसर के लिए हुई परीक्षा के स्क्रीनिंग टेस्ट के नतीजे HPPSC ने मंगलवार को घोषित कर दिए। HPPSC ने सहायक प्रोफेसर कॉलेज कैडर हिंदी और वाणिज्य व सहायक प्रोफेसर...

"अंतर्राष्‍ट्रीय योग" दिवस के उपलक्ष में "एसजेवीएन" ने पोर्टमोर स्‍कूल में आयोजित की भाषण प्रतियोगिता

“अंतर्राष्‍ट्रीय योग” दिवस के उपलक्ष में “एसजेवीएन” ने पोर्टमोर स्‍कूल में आयोजित की भाषण प्रतियोगिता

विषय  था ”योग सिर्फ योग भगाने तक सीमित नहीं है” योग भारतीय संस्‍कृति की सर्वश्रेष्‍ठ धरोहर : योग विशेषज्ञ डॉ. अनुराग छात्र नियमित रूप से योग करें तो अपने व्‍यक्तित्‍व और कृतित्‍व में...

बीते 4 वर्षों में शिक्षा क्षेत्र को मजबूत बनाने के लिए की गईं 33 नई पहल

बीते 4 वर्षों में शिक्षा क्षेत्र को मजबूत बनाने के लिए की गईं 33 नई पहल

सभी को सस्ती व गुणवत्तापूर्ण शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए किए गए हैं क्रांतिकारी बदलाव: प्रकाश जावड़ेकर 141 विश्वविद्यालय, 14 आईआईआईटी, 7 आईआईएम, 7 आईआईटी और 103 नए केंद्रीय विद्यालय एवं 62 नए नवोदय...