धर्म/ संस्कृति

महाशिवरात्रि: इस शुभ मुहूर्त करें भगवान शिव की पूजा..

महाशिवरात्रि: इस शुभ मुहूर्त करें भगवान शिव की पूजा..

जानें शिवरात्रि की पूजा विधान महाशिवरात्रिहिन्‍दू धर्म के प्रमुख त्‍योहरों में से एक है। इस दिन शिवालयों में शिवलिंग पर जल, दूध और बेल पत्र चढ़ाकर भक्‍त शिव शंकर को प्रसन्‍न करने की कोशिश...

हिमाचल : लोहड़ी व मकर संक्रांति पर हजारों की संख्या में श्रदालु तत्तापानी में स्नान कर करते हैं तुलादान

हिमाचल : लोहड़ी व मकर संक्रांति पर हजारों की संख्या में श्रदालु तत्तापानी में स्नान कर करते हैं तुलादान

हमारे पहाड़ी प्रदेशों में इस उत्सव को लोहड़ी, माघी व माघी साजा के नाम से जाना जाता है मकर संक्रांति  के दिन मीठे नमकीन बबरू और पकाई जाती है खिचड़ी देशभर में जहां लोहड़ी खूब धूमधाम से मनायी...

रात 11 बजकर 54 मिनट से होचंद्र ग्रहण आज रात 10:37 पर शुरू

चंद्र ग्रहण आज रात 10:37 पर शुरू

आज पौष पूर्णिमा (10 जनवरी 2020 शुक्रवार) की रात साल 2020 का पहला चंद्रग्रहण लगेगा। इस ग्रहण का कोई अशुभ प्रभाव नहीं होगा। उप छाया ग्रहण को मलिन ग्रहण भी कहते हैं। यह चंद्र ग्रहण 10 जनवरी को रात 10:37 बजे...

26 दिसंबर को लगेगा बड़ा सूर्यग्रहण...26 दिसंबर को लगेगा बड़ा सूर्यग्रहण...

26 दिसंबर को सूर्यग्रहण, जाने..किन राशियों पर होगा क्या असर, करें ये उपाय

ग्रहण के दौरान इन बातों का रखें ध्यान…. 26 दिसंबर को होने वाला सूर्यग्रहण इस बार विशेष परिस्थितियों के साथ होगा। इस दौरान सूर्यग्रहण में छह ग्रह एक साथ होंगे और यह भारत में दिखाई भी देगा।...

“देव कमरूनाग” ...यहां स्थानीय ही नहीं, बल्कि देश-विदेश के लोग भी होते हैं नतमस्तक

“देव कमरूनाग” … स्थानीय लोगों के साथ-साथ जहां देश-विदेश के लोग भी होते हैं नतमस्तक

  कमरूनाग झील में समाया है अपार खजाना परंपरा के कारण सिक्कों और अमूल्य धातुओं का भारी भंडार हिमाचल को देवभूमि के नाम से ना केवल देशों में अपितु विदेशों में भी जाना जाता है। यहाँ हर देवी-...

देवताओं को पूजने, मानने के लिए खास तरीके, खास विधियां व विधान

हिमाचल : देवी-देवताओं को पूजने के साथ-साथ मनाना भी जरूरी…

यह मेरा देवता, वह तेरा देवता परिवार के देवते को कुलजा अथवा कुलज्ञ कहते हैं गांव के एक छोर पर ग्राम देवता का बना होता है स्थान या मंदिर हिमाचल के कुल्लू जनपद की बात करें तो यहां पर हर घर का अपना...

शिमला: टूटीकंडी के गीता मंदिर में तुलसी विवाह, सैकड़ों स्थानीय लोग सज-धजकर बने बाराती

शिमला: टूटीकंडी के गीता मंदिर में तुलसी विवाह, धूमधाम से निकली बारात

सभी रस्मों और विधि-विधान के साथ संपन्न हुआ तुलसी और भगवान शालिग्राम का विवाह शिमला: कार्तिक मास की देवोत्‍थान एकादशी के दिन तुलसी और भगवान शालिग्राम के विवाह का विधान है। इस बार देवउठान...