धर्म/ संस्कृति

लाहौल और स्पीति “भोट” की जीवन शैली उनकी निकटता के कारण समान…

लाहौली एवं स्पीति भोट द्वारा बोली जाने वाली भाषा भोटी भुटोरियां पंगवाल गांव से काफी दूर ईसा की सातवीं शताब्दी में पहली बार तिब्बती भोटों ने अपने साम्राज्य प्रसार के अभियान में हिमाचल के...

मुख्यमंत्री ने धर्मपत्नी सहित काशी विश्वनाथ मंदिर में शीश नवाया

शिमला : मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर और उनकी धर्मपत्नी डॉ. साधना ठाकुर ने आज काशी विश्वनाथ मंदिर में शीश नवाया और वाराणसी में पूजा-अर्चना की। मुख्यमंत्री ने नवनिर्मित मंदिर परिसर का अवलोकन किया...

शनि देव को प्रसन्न करने के लिए करें ये उपाय : आचार्य महेन्द्र कृष्ण शर्मा

शनि देव को प्रसन्न करने के लिए करें ये उपाय : आचार्य महेन्द्र कृष्ण शर्मा

शनि देव अगर किसी पर अपनी कृपा कर दें तो उसे हर काम में मिलती है सफलता शिमला : शनि देव व्यक्ति को उनके कर्मों के मुताबिक फल देते हैं। शनिदेव को न्याय का देवता कहा जाता है। शनि देव अगर किसी पर अपनी...

अलौकिक अवतार गुरु नानकदेव जी

“गुरु नानकदेव जी” अलौकिक अवतार

अलौकिक अवतार गुरु नानकदेव जी भारत की पावन भूमि पर कई संत-महात्मा अवतरित हुए हैं, जिन्होंने धर्म से विमुख सामान्य मनुष्य में अध्यात्म की चेतना जागृत कर उसका नाता ईश्वरीय मार्ग से जोड़ा है। ऐसे...

झील के रूप में पूजी जातीं हैं देवी "रेणुका"

इसलिए पड़ा झील का नाम “रेणुका जी”….

झील के रूप में पूजी जाती हैं माँ “रेणुका जी”,  राजा प्रसेनजित् की पुत्री थी देवी “रेणुका” हिमाचल में सदियों से ही देवी-देवताओं का वास रहा है। यहां के लोगों की देवी-देवताओं के प्रति गहरी...

भाई-बहन के पावन संबंध व प्रेमभाव का त्यौहार : भाई दूज

भाई-बहन के पावन संबंध व प्रेमभाव का त्यौहार “भाई दूज”

कार्तिक शुक्ल द्वितीय को भाई दूज का पर्व पूरे भारत वर्ष में बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है। दीवाली के त्यौहार के साथ केवल दीपमालाएं ही नहीं बल्कि अनेकों उत्सवों की मालाएं भी गुंथी हुई हैं।...

दिवाली का पौराणिक महत्व, पंच-पर्वों का त्‍यौहार: दीपावली

“धनतेरस” दीपावली पर्व की शुरुआत का प्रतीक…

दिवाली का पौराणिक महत्व, पंच-पर्वों का त्‍यौहार: दीपावली दीपावली की पूरी रात दीपक प्रज्‍वलित रखते हैं, जिसके संदर्भ में हिन्‍दु धर्म में कई मान्‍यताऐं हैं, जिनमें से कुछ का वर्णन पिछले...