धर्म/ संस्कृति

स्वयं में इतिहास समेटे हुए जहां का लोकतंत्र, विश्व का एकमात्र कुल्लू का “मलाणा” गांव

स्वयं में इतिहास समेटे हुए जहां का लोकतंत्र, विश्व का एकमात्र कुल्लू का “मलाणा” गांव

भारत वर्ष में प्राचीन काल से ही जनतंत्रीय प्रणाली रही है। राजा पर भी जनता का अंकुश होता था। पंचायत तंत्र अति प्राचीन है। इसका एक अन्य रूप बरादरी पंचायत है जो बरादरी का नियमन करती है। पंचायत...

हिमाचल प्रदेश के पैगोड़ा शैली में बने मंदिर

हिमाचल के मण्डी, कुल्लू, किन्नौर, शिमला के पर्वतीय क्षेत्रों में पैगोड़ा शैली के कई “मंदिर”

हिमाचल  के पैगोड़ा शैली में बने मंदिर हिमाचल प्रदेश के मण्डी, कुल्लू, किन्नौर, शिमला के पर्वतीय क्षेत्रों में पैगोड़ा शैली के असंख्य मंदिर हैं। राजा बाणसेन द्वारा 1346 में निर्मित मण्डी का...

महाभारत के इतिहास से जुड़ा खेल, नृत्य व नाट्य का सम्मिश्रण ठोडा

महाभारत के इतिहास से जुड़ा “ठोडा” खेल

कौरवों व पांडवों की यादें पर्वतीय क्षेत्रों में अभी तक रची-बसी दुनिया में तीरंदाजी की कितनी ही शैलियां हैं मगर हिमाचल व उत्तराखंड की पर्वतावलियों के बाशिंदों की यह तीरकमानी अद्भुत व निराली...

देवताओं को पूजने, मानने के लिए खास तरीके, खास विधियां व विधान

हिमाचल के हर गाँव में अपने-अपने देवी-देवता की अपनी ही खास महत्ता

यह मेरा देवता, वह तेरा देवता परिवार के देवते को कुलजा अथवा कुलज्ञ कहते हैं गांव के एक छोर पर ग्राम देवता का बना होता है स्थान या मंदिर हिमाचल के कुल्लू जनपद की बात करें तो यहां पर हर घर का अपना...

12 साल में एक बार मनाया जाता है हिमाचल का प्राचीन व रोचक उत्सव "भुण्डा"

हिमाचल का प्राचीन व रोचक उत्सव “भुण्डा”

12 साल में एक बार मनाया जाता है “भुण्डा” स्थानीय लोगों में अपनी धर्म-संस्कृति,परम्परा व रीति-रिवाजों के प्रति बहुत आदर-भाव हिमाचल प्रदेश में जहां देवी-देवताओं को बहुत ही श्रद्धा से पूजा...

हिमाचल : पर्यटन को विकसित करने के लिए 1900 करोड़ स्वीकृत, स्थानीय युवाओं के लिए बढ़ेंगे रोज़गार के अवसर

हिमाचल: ऐतिहासिक, पारम्परिक व सांस्कृतिक पहचान दर्शाती चौपाल की “वेशभूषा”

देश की बात हो या प्रदेश की उसकी जीवन शैली की पहचान वहां के रहने वाले लोगों, वेशभूषा, खानपान व आभूषणों से होती है। हांलाकि काफी समय से हमारे कई पारम्परिक परिधान और आभूषण लुप्त होते जा रहे हैं।...

जानें पृथ्वी पुत्र "मंगल" किस प्रकार लाभ देता है : कालयोगी आचार्य महेन्द्र कृष्ण शर्मा

लॉकडाउन के दौरान योग और साधनाओं द्वारा घर पर कैसे स्वस्थ रहें… बता रहे हैं कालयोगी आचार्य महेन्द्र कृष्ण शर्मा

आपको हर रोज कालयोगी आचार्य महेन्द्र कृष्ण शर्मा हमारे वीडियो चैनल के माध्यम से क्रमानुसार प्रतिदिन सुबह करवाएंगे  अवगत कोरोना को लेकर लॉकडाउन के चलते लोग घरों में हैं इस दौरान वो कैसे...