धर्म व संस्कृति

विश्व भर में माखनचोर कान्हा के जन्मोत्सव की धूम...

माखनचोर कान्हा के जन्मोत्सव की धूम… श्रीकृष्ण का अवतरण होते ही वसुदेव–देवकी की खुल गईं बेड़ियाँ

कृष्ण जन्माष्टमी भगवान श्रीकृष्ण के जन्मोत्सव की तैयारियां पूरे जोर-शोर से कई दिनों से की जा रही हैं क्योंकि भगवान श्रीकृष्ण को भगवान विष्णु का आठवां अवतार माना जाता है। उनकी बाल लीलाओं से...

सुबह 5:59 से शुरू होगा शुभ मुहूर्त व जानें...राखी बांधने की पूजा विधि

रक्षा बंधन: सुबह 5:59 से शुरू होगा शुभ मुहूर्त व जानें…राखी बांधने की पूजा विधि

रक्षा बंधन 26 अगस्त रविवार को मनाया जा रहा है। इस दिन सभी बहनें अपने-अपने भाइयों को राखी बांधेंगी। हर रक्षाबंधन की तरह इस बार भी राखी बांधने के लिए पंडितों द्वारा शुभ मुहूर्त निकाला गया है।...

भाई-बहन के प्यार और सदभावना से भरा त्यौहार "रक्षाबन्धन"

भाई-बहन के प्यार और सदभावना से भरा त्यौहार “रक्षाबन्धन”

प्राचीन काल से चल आ रहे त्यौहारों में से एक बहुत ही आर्दश प्रेम प्रतीकण् सद्भावनों से भरा हुआ त्यौहार रक्षाबन्धन माना गया है। कच्चे धागा का बन्धन समाज के लोगों में एक आदर्श प्रस्तुत करता है।...

सर्वविख्यात धार्मिक पर्यटन स्थल की नगरी "चंबा"

सर्वविख्यात धार्मिक पर्यटन स्थल की नगरी “चंबा”

रानी चंपावती के नाम पर बसा चंबा प्राचीन संस्कृति और विरासत को संजोए चंबा चंबा भारत के हिमाचल प्रदेश प्रान्त का एक नगर है। हिमाचल प्रदेश का चंबा अपने रमणीय मंदिरों और हैंडीक्राफ्ट के लिए...

रात 11 बजकर 54 मिनट से होगा शुरू चंद्र ग्रहण, जानें : आप पर क्या होगा असर..?

रात 11 बजकर 54 मिनट से होगा शुरू चंद्र ग्रहण, जानें : आप पर क्या होगा असर..?

रात 11 बजकर 54 मिनट से होगा शुरू होगा 21वीं सदी का सबसे लंबा पूर्ण चंद्र ग्रहण, जानें- आप पर क्या होगा असर? 2.43 बजे से पृथ्वी की छाया धीरे धीरे चंद्रमा से हटने लगेगी और फिर से आंशिक चंद्रग्रहण दिखना...

27 जुलाई को 21वीं सदी का सबसे लंबा खग्रास चंद्र ग्रहण, इन राशियों के लिए शुभ है ग्रहण...

27 जुलाई को 21वीं सदी का सबसे लंबा खग्रास चंद्र ग्रहण, इन राशियों के लिए शुभ है ग्रहण…कालयोगी आचार्य महिन्दर शर्मा

इस बार 27 जुलाई को 21वीं सदी का सबसे लंबा खग्रास चंद्र ग्रहण होगा। ग्रहण 27 जुलाई की मध्य रात्रि में 11 बजकर 45 मिनट पर होगा और इसका मोक्ष काल यानी अंत 28 जुलाई की सुबह 2 बजकर 45 मिनट पर होगा। कालयोगी...

समस्याओं से ज्यादा खतरनाक होती हैं मन से उपजी समस्याएं

समस्याओं से ज्यादा खतरनाक होती हैं मन से उपजी समस्याएं

जो मनुष्य परिस्थितियों के साथ संघर्ष नहीं, समझौता करता है वो कभी आगे नहीं बढ़ सकता बंधा आदमी सहना नहीं जानता। वह कष्टों से बहुत जल्द घबरा जाता है और घबराया मन कभी कोई नई मुसीबत पैदा नहीं करना...