कृषि/ बागवानी

हिमाचल की एक महत्वपूर्ण मसालेदार व नगदी फसल अदरक

हिमाचल की एक महत्वपूर्ण मसालेदार व नगदी फसल अदरक

अदरक हिमाचल प्रदेश की एक महत्वपूर्ण मसालेदार व नगदी फसल है। यह लगभग 20 हैक्टेयर भूमि पर उगाया जाता है तथा इसका उत्पादन लगभग 160 टन होता है। अदरक की खेती मुख्यत: सिरमौर, सोलन, शिमला, बिलासपुर, मण्डी...

गुटलीदार फलों में फूल खिलने की प्रक्रिया पूरी, इस वर्ष लगभग 15 दिन पहले खिल रहे हैं सेब बागीचों में फूल : डॉ. एस पी भारद्वाज

सेब में कली विकास की विभिन्न अवस्थाएं भी कम समय में पूर्ण इस समय किसी भी छिड़काव की आवश्यकता नहीं इस वर्ष मार्च के महीने में जितनी तीव्रता तापमान की बढ़ोतरी में देखी गई है वह अप्रत्याशित है...

हिमाचल के निचले एवं गर्म क्षेत्रों में अधिक पाया जाता है पीला रतुआ… जानें रोग एवं उपचार

हिमाचल प्रदेश में पीला रतुआ (येलो रस्ट या स्ट्राइप रस्ट) गेहूँ का प्रमुख रोग है। यह बीमारी प्रदेश में दिसम्बर के मध्य से लेकर फरवरी के पहले पखवाड़े तक आती है तथा इसके बाद फसल पर मार्च के अंत तक...

हिमाचल के वनस्पतिक पेड़-पौधों की विविधता व उपयोगिता…

औषधीय गुणों से भरपूर है हिमाचल की वनस्पतियां बेशकीमती जड़ी-बूटियों को अपने आंचल में समेटे हिमाचल हिमाचल में उगने वाले जंगली वृक्षों में विविधता है। यहां फलदार वृक्ष व औषधि में प्रयोग में...

भिंडी लगाकर बढ़ाए आर्थिकी लाभ

ग्रीष्मकालीन सब्जियों में भिंडी का प्रमुख स्थान ग्रीष्मकालीन सब्जियों में भिंडी का प्रमुख स्थान है। ग्रीष्मकाल में भिंडी की अगेती फसल लगाकर किसान भाई अधिक लाभ अर्जित कर सकते है। मुख्य रुप...

खुमानी को शीत ऋतु में लगाएं...

शीत ऋतु में लगाएं “खुमानी”…

खुमानी को खुबानी भी कहते हैं। सुखाने वाली तथा जंगली किस्म को जरदालू कहा जाता है जो बीजू पौधे तैयार करने के काम आती है। खुमानी समशीतोष्ण खण्ड का फल है। समुद्रतल से 2000 मीटर तक ऊंचे क्षेत्रों में...

अक्तूबर व नवम्बर माह सेब बागीचों में तापमान में निरंतर गिरावट होने पर पौधों में पतझड़ की प्रक्रिया आरंभ

सेब बागीचों में कांट-छांट करने का आजकल उपयुक्त समय, रखें इन बातों का भी ख्याल;- जानकारी दे रहे हैं बागवानी विशेषज्ञ एस.पी. भारद्वाज

इस वर्ष व्यापक हिमपात व वर्षाजल की प्राप्ति बागवानों के लिए सभी दृष्टिकोणों से लाभप्रद चिलिंग हार्वस की आवश्यक पूर्ति बहुत वर्षों के अन्तराल के पश्चात इस वर्ष जनवरी मास व फरवरी के प्रथम...