कानून-व्यवस्था

आपसी सहमति से तलाक के लिए 6 महीने इंतज़ार अनिवार्य नहीं: सुप्रीम कोर्ट

आपसी सहमति से तलाक के लिए 6 महीने इंतज़ार अनिवार्य नहीं: सुप्रीम कोर्ट

कोर्ट ने कहा कि अंतिम आदेश के लिए 6 महीने का वक़्त लेना सिविल जज के विवेक पर निर्भर होगा. अगर जज चाहे तो खास परिस्थितियों में तुरंत तलाक का आदेश दे सकते हैं। नई दिल्ली: अगर परिस्थितयां खास हों तो...

कोर्ट मैरिज "कानून"

कोर्ट मैरिज “कानून”

हिन्दू विवाह कानून 1995 के बन जाने के बाद एक पति/पत्नी के रहते दूसरा विवाह करना हिंदुओं के लिए अपराध करार दे दिया गया है, जिसके लिए सात साल की सजा दी जा सकती है। हिन्दुओं में विवाह को पवित्र बंधन...

जेबीटी भर्ती पर सुनवाई टली, अगली सुनवाई 14 अगस्त को

अपनी संपति किसी अन्य को देना यानि “हस्तांतरण” (ट्रान्सफर) संबंधी जानकारी

अपनी संपत्ति को उपहार के रूप में अपने किसी रिश्तेदार या तीसरे व्यक्ति को भेंट कर देना या नाम कर देना कहलाता है संपत्ति हस्तांतरण (ट्रान्सफर)।  इसी के तहत इस बार अधिवक्ता रोहन सिंह चौहान के...

न्यायमूर्ति अहमद के कार्यकाल की महत्वपूर्ण उपलब्धि : न्यायालय अभिलेखों के डिजिटाईशन को प्राथमिकता

न्यायमूर्ति अहमद के कार्यकाल की महत्वपूर्ण उपलब्धि : न्यायालय अभिलेखों के डिजिटाईशन को प्राथमिकता

शिमला: हि.प्र. उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति मंसूर अहमद मीर ने हि.प्र. उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश का कार्यभार 27 नवम्बर, 2013 को संभाला था और वह 24 अप्रैल, 2017 को सेवानिवृत हो रहे...

हमारे "भारत" देश के राष्ट्रीय प्रतीक व् राष्ट्रीय ध्वज संहिता

हमारे “भारत” देश के राष्ट्रीय प्रतीक व् राष्ट्रीय ध्वज संहिता

हमारे भारत देश के राष्ट्रीय प्रतीक व राष्ट्रीय ध्वज संहिता। जी हाँ इस बार हम आपको अपने कॉलम कानून-व्यस्था में अपने भारत देश के राष्ट्रीय प्रतीक व राष्ट्रीय ध्वज संहिता के बारे में विस्तार...

जेबीटी भर्ती पर सुनवाई टली, अगली सुनवाई 14 अगस्त को

LAW AND ORDER SITUATION IN THE STATE OF HP

Shimla : • The Law & Order situation in the State is fully under control. The Govt. is committed to the safety of properties of the residents of the State and their security. During the last ten years the most crime prone year was 2011 when 18,875 criminal cases were registered. In the last four

जेबीटी भर्ती पर सुनवाई टली, अगली सुनवाई 14 अगस्त को

क्या है?….एफआईआर दायर करने की प्रक्रिया

किसी अपराध की सूचना जब किसी पुलिस ऑफिसर को दी जाती है तो उसे एफआईआर कहते हैं। यह सूचना लिखित में होनी चाहिए या फिर इसे लिखित में परिवर्तित किया गया हो। एफआईआर भारतीय दंड प्रक्रिया संहिता 1973 के...